आधुनिक और आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद खड़ी करेगी नई शिक्षा नीति:भाजपा
आधुनिक और आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद खड़ी करेगी नई शिक्षा नीति:भाजपा
बिहार

आधुनिक और आत्मनिर्भर भारत की बुनियाद खड़ी करेगी नई शिक्षा नीति:भाजपा

news

आरा,30 जुलाई। लंबे अंतराल के बाद नई शिक्षा नीति लागू करने फैसले का भारतीय जनता पार्टी के नेताओ ने स्वागत किया है और नई शिक्षा नीति को देश की शिक्षा में आमूल चूल परिवर्तन की बड़ी शुरुआत बताई है। भाजपा के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रेम रंजन चतुर्वेदी ने केंद्रीय कैबिनेट की नई शिक्षा नीति पर मुहर लगाने के लिए पीएम मोदी और शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को बधाई दी है और कहा है कि 34 साल बाद नई शिक्षा नीति लाकर केंद्र सरकार ने ऐतिहासिक कदम बढ़ाया है। उन्होंने कहा है कि नई शिक्षा नीति से आधुनिक भारत के नव निर्माण को गति मिल गई है और भारत दुनिया के संपन्न देशों की शिक्षा के मुकाबले छात्रो को शैक्षणिक क्षेत्रो में खड़ा करने में अब अपना परचम लहराएगा। भाजपा के प्रवक्ता सुरेन्द्र ने कहा कि नई शिक्षा नीति कई मायनों में छात्रो के हित मे बड़ा और ऐतिहासिक फैसला साबित होने वाला है। उन्होंने बताया कि नई शिक्षा नीति के आ जाने के बाद अब लीगल और मेडिकल कॉलेजो को छोड़कर उच्च शिक्षण संस्थानों का संचालन सिंगल रेग्युलेटर के जरिये होगा। उन्होंने बताया कि नई शिक्षा नीति में अब मल्टीपल एंट्री और एक्जिट सिस्टम लागू हो गया है। 1986 की पुरानी शिक्षा नीति की व्यवस्था में छात्र अगर 4 साल या 6 सेमेस्टर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर किसी कारणवश पढ़ाई बीच मे छोड़ देते थे तो उनकी पढ़ाई का कोई लाभ नही मिल पाता था। नई शिक्षा नीति के लागू हो जाने के बाद अब मल्टीपल एंट्री और एक्जिट सिस्टम के तहत ऐसे छात्रो को पढ़ाई के एक साल के बाद सर्टिफिकेट,दो साल के बाद डिप्लोमा और 3-4 साल के बाद डिग्री मिल जाएगी। छात्रो की पढ़ाई के एक एक साल का लाभ उन्हें मिल पायेगा और बीच मे वे किसी कारणवश पढ़ाई छोड़ते हैं तो अपने सर्टिफिकेट,डिप्लोमा का इस्तेमाल अपने करियर को ले कर सकेंगे। प्रवक्ता सुरेन्द्र ने बताया कि बच्चो की बुनियादी साक्षरता और न्यूमरेसी की समझ के लिए देश मे नेशनल मिशन प्रोग्राम शुरू होगी। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र-hindusthansamachar.in