हेल्थ एवं फ्रंटलाइन वर्कर व उनके परिवारों को लगाया जायेगा टीका

हेल्थ एवं फ्रंटलाइन वर्कर व उनके परिवारों को लगाया जायेगा टीका
health-and-frontline-workers-and-their-families-will-be-vaccinated

सहरसा,11 जून (हि.स.)। जिले में कोविड- 19 टीकाकरण कार्य जोर-शोर से जारी है। सभी प्रकार के वर्गों को चिह्नित करते हुए उन्हें जागरूक कर, उनका टीकाकरण किया जा रहा है, वहीं सरकारी विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को उनके विद्यालय में ही टीकाकरण किया गया है।ताकि जिले में अधिक से अधिक लोगों का कोविड टीकाकरण होना सुनिश्चित हो सके। इसी कड़ी में हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाइन वर्कर के परिवार के 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के एवं 45 वर्ष से ज्यादा आयुवर्ग के सभी सदस्यों का कोविड- 19 टीकाकरण करने संबंधी आदेश जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने जारी किया है। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, डा. कुमार विवेकानंद ने बताया जिले में कार्यरत सभी हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाइन वर्कर एवं उनके परिवार के सदस्यों का टीकाकरण शनिवार एवं रविवार को सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं शहरी क्षेत्र के निर्धारित सत्र पर स्पेशल सत्र आयोजित करते हुए किया जाना है। उन्होंने बताया कोविड टीका ही कोरोना से बचाव का एकमात्र सशक्त और सुरक्षित विकल्प के तौर पर सामने आया है। ऐसे में हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाइन वर्कर एवं उनके परिवार के सभी सदस्यों को कोरोना से सुरक्षित किया जाना आवश्यक है। उन्होंने बताया अधिकांश हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाइन वर्कर कोविड का टीका ले चुके हैं। लेकिन कुछ अभी तक कोविड टीका नहीं ले पाये थे। साथ ही इनके परिवार के 18 से अधिक आयुर्वग के सभी सदस्यों का भी टीकाकरण जरूरी हो जाता है।ऐसे में अधिक से अधिक लोगों का कोरोना से प्रतिरक्षित किया जाना जरूरी है। ताकि यदि कोरोना की तीसरी लहर आये भी तो टीका ले चुके लोगों को कम प्रभावित कर सके। अब यह साबित हो चुका है कि कोविड वैक्सीन ले चुके लोगों को कोरोना संक्रमण का खतरा नहीं के बराबर है। यदि उन्हें कोरोना होता भी है तो उनमें कोरोना के मामूली लक्षण होते हैं जो कोविड उचित व्यवहार, होम आइसोलेशन चिकित्सकों के परामर्श अनुरुप दवाओं के सेवन से ठीक हो जाते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/अजय