बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह गायब, खोजने के लिए जगह-जगह लगाए गए पोस्टर
बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह गायब, खोजने के लिए जगह-जगह लगाए गए पोस्टर
बिहार

बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह गायब, खोजने के लिए जगह-जगह लगाए गए पोस्टर

news

बेगूसराय, 24 जुलाई (हि.स.)। बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह लापता हो गए हैं। पांच माह से उनके दर्शन नहीं हुए हैं जिसके बाद अब गिरिराज सिंह की खोज में जिला मुख्यालय में जगह-जगह पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर में इनाम देने की बात भी कही गई है। हालांकि पोस्टर किसने चिपकाया और इनाम कितना दिया जाएगा, इस संबंध में पोस्टर में कोई चर्चा नहीं किया गया है। लेकिन लॉकडाउन के बीच अचानक से जिला मुख्यालय में दर्जनों जगह सांसद के लापता रहने से संबंधित पोस्टर चिपकाए जाने से राजनीतिक गलियारे में हड़कंप मच गया है। पोस्टर चिपका रहे विक्रम कुमार ने बताया कि सांसद चार महीने से अधिक समय से लापता हैं। चुनाव जीतने के बाद वह बार-बार पाकिस्तान की बात कर रहे थे, इसलिए पता नहीं अभी वह हिंदुस्तान में हैं या पाकिस्तान चले गए। इसलिए यह पोस्टर चिपकाया जा रहा है। हम कांग्रेस के कार्यकर्ता और जनता चार-पांच महीने से सांसद को खोज रहे हैं। इस कोरोना काल में सभी जनप्रतिनिधि लोगों के दुःख-दर्द बांट रहे, लेकिन संसद गायब हैं। वह हमारे सबसे बड़े जनप्रतिनिधि हैं तो उन्हें खोजना हमारा दायित्व है। इस संबंध में भाजपा के मीडिया प्रभारी सुमित सन्नी का कहना है कि गिरिराज सिंह के संबंध में चिपकाया गया पोस्टर मानसिक दिवालियापन को दर्शाता है। चुनाव के समय में ऐसे ही बरसाती मेंढक टर्र-टर्र करते हैं। पोस्टर चिपकाने वाले तथा इसमें सहयोग कर रहे कांग्रेसियों को शर्म आनी चाहिए, जिन्हें जनता ने नकार दिया था, वह किस मुंह से पोस्टर चिपका रहे हैं। सांसद तथा केंद्रीय मंत्री बने और 82 दिनों तक क्षेत्र में जनता के साथ गुजारी। पोस्टर चिपकाने वाले कांग्रेसी यह जवाब दें कि बेगूसराय के सात में से पांच विधानसभा क्षेत्र पर महागठबंधन का कब्जा है, कहां है उसके विधायक। मुश्किल परिस्थिति में भाजपा का हर कार्यकर्ता जनता की सेवा में लगा हुआ है, देशभर में जहां कहीं भी बेगूसराय के लोगों के फंसे होने की जानकारी मिली, उसे सूखा राशन समेत अन्य सुविधा उपलब्ध कराई गई। भाजपा कार्यकर्ता सदैव समाज की सेवा में समर्पित थे, समर्पित हैं और समर्पित रहेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/विभाकर-hindusthansamachar.in