fisheries-development-project-entrusts-keys-to-21-beneficiaries
fisheries-development-project-entrusts-keys-to-21-beneficiaries
बिहार

मत्स्य विकास परियोजना ने 21 लाभुकों को सौंपा चाबी

news

सहरसा,20 फरवरी(हि.स.)। राज्य स्कीम के तहत मत्स्य कृषकों का वार्षिक आय दुगुना करने में सहायता को लेकर शनिवार को मत्सय परियोजना के तहत अनुसूचित जाति, जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के चयनित 21 लाभुको को जिला मत्स्य कार्यालय में वाहन की चाबी प्रदान किया। आयोजित समारोह में मत्स्य निदेशक सुबोध वर्मा ने कहा कि इस योजना का उद्देश्य वर्ष 2022 तक मत्स्य कृषकों का वार्षिक आय को दुगुना करने में सहायता प्रदत करना है एवं मत्स्य उपयोगकर्ताओं को स्वच्छ एवं ताजी मछली उपलब्ध कराना है।उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा मत्स्य पालक कृषकों का वार्षिक आय को दुगुना करने में सहायता के लिए मोपेड सह आइस बाॅक्स, थ्री व्हीलर एवं फोर व्हीलर 90 प्रतिशत अनुदान पर दिया गया है। जिला मत्स्य पदाधिकारी मनोरंजन कुमार ने कहा कि अति पिछड़ी जातियों के लिए मत्स्य विपणन योजना अंतर्गत 11 मोपेड सह आइस बाॅक्स, तीन थ्री व्हीलर एवं दो फोर व्हीलर दिया जाना है। जिनमें अनुसूचित जातियों के लिए मत्स्य विपणन योजना अंतर्गत सात मोपेड सह आइस बाॅक्स, चार थ्री व्हीलर एवं दो फोर व्हीलर देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है लेकिन अति पिछड़ी जाति के तीन एवं अनुसूचित जातियों के पांच लाभुकों द्वारा अंशदान की राशि जमा नहीं करने के कारण अभी 21 लाभुकों को ही वाहन उपलब्ध कराया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/चंदा