एकलव्य खेल प्रशिक्षण केन्द्रों के माध्यम से खिलाड़ियों को दी जा रही ऑनलाइन ट्रेनिंगः खेल मंत्री
एकलव्य खेल प्रशिक्षण केन्द्रों के माध्यम से खिलाड़ियों को दी जा रही ऑनलाइन ट्रेनिंगः खेल मंत्री
बिहार

एकलव्य खेल प्रशिक्षण केन्द्रों के माध्यम से खिलाड़ियों को दी जा रही ऑनलाइन ट्रेनिंगः खेल मंत्री

news

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजीजू से कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार ने की बातचीत कहा, बिहार में केस बढ़ रहे, नियंत्रित करना सरकार की पहली प्राथमिकता पटना, 17 जुलाई (हि.स.)। बिहार सरकार के कला संस्कृति एवं युवा विभाग के मंत्री प्रमोद कुमार ने शुक्रवार को केंद्रीय युवा खेल मंत्री किरेन रिजीजू से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण उत्पन्न स्थिति, लॉकडाउन में सभी खेल गतिविधियों के आयोजन प्रशिक्षण आदि पर लगी रोक, राज्य के अनलॉकडाउन फेज में केवल प्रशिक्षण कार्यक्रम को चरणबद्ध ढंग से प्रारंभ करने और इसके लिए तैयार मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के संबंध में चर्चा की। उन्होंने कहा कि बिहार में अब कोरोना के केस काफी बढ़ रहे हैं, अत: खिलाडि़यों की सुरक्षा को उच्च प्राथमिकता दी गई है। अभी खेल आयेजनों एवं सांस्कृतिक समारोहों को शुरू करने के लिए स्थिति अनुकूल नहीं है । राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता बढ़ते संकमण को नियंत्रित करना है और उसके लिए ही व्यापक प्रयास किये जा रहे हैं। ऑनलाइन ट्रेनिंग, राज्य खेल निदेशालय के माध्यम से सभी एकलव्य खेल प्रशिक्षण केन्द्रों के माध्यम से दिये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसके लिए राज्य खेल संघों के पदाधिकारियों और प्रशिक्षकों के साथ बेहतर समन्वय स्थापित कर प्रयास किये जा रहे हैं। भारत सरकार द्वारा फिट इंडिया, खेलो इंडिया कार्यक्रम के लिए समय-समय पर जो निदेश दिये जाते हैं, उसके कार्यावन्यवन के लिए शिक्षा विभाग सहित अन्य एजेंसियों के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य किये जा रहे हैं। राजगीर में 740 करोड़ की लागत से 90 एकड़ भूमि में निर्माणाधीन राज्य खेल अकादमी सह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट रट्टेडियम में 24 खेलों की व्यवस्था की जा रही है। राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में 6.61 करोड़ की लागत से खेल भवन-सह-व्यायामशाला का निर्माण किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त राज्य के सभी प्रखंड (ब्लॉक) में आउटडोर स्टेडियम का निर्माण किया जा रहा है। मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा कि राज्य खेल संघों को अनुदान, खिलाड़ी कल्याण कोष तथा 29 अगस्त राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर राज्य के वैसे खिलाड़ी जो राष्ट्रीय व अंतराष्ट्रीय स्तर पर उपलब्धि प्राप्त करते है, उन्हें सम्मानित किया जाता है। उत्कृष्ट खिलाड़ीयों की नियुक्ति राज्य के समान्य प्रशासन विभाग द्वारा सरकारी सेवा में की जा रही है। इसके उपरांत एनएसएस, एनवाईके और एनसीसी द्वारा राज्य में कोविड-9 संक्रमण से जन मानस को जागरूक करने तथा अन्य प्रयासों के संबंध में जिला प्रशासन के माध्यम से सकारात्मक पहल की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव /विभाकर-hindusthansamachar.in