due-to-rumours-some-people-are-opposing-the-vaccine-officials-are-going-from-village-to-village
due-to-rumours-some-people-are-opposing-the-vaccine-officials-are-going-from-village-to-village
बिहार

अफवाह के कारण कुछ लोग कर रहे हैं वैक्सीन का विरोध, अधिकारी जा रहे गांव-गांव

news

बेगूसराय, 08 जून (हि.स.)। कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए वैक्सीन बहुत कारगर है लेकिन सरकार तथा विभिन्न संगठनों के लगातार जागरूकता के बावजूद लोग वैक्सीन लेने के लिए सामने नहीं आ रहे हैं। सोशल मीडिया समेत विभिन्न माध्यमों से अफवाह फैला दिए जाने के कारण लोग इसका विरोध कर रहे है। हालांकि, विरोध की जानकारी मिलते ही वरीय प्रशासनिक अधिकारी लोगों से मिलकर वस्तुस्थिति से अवगत करा रहे हैं। मंगलवार को बखरी के भाकपा विधायक सूर्यकांत पासवान ने भी प्रशासनिक अधिकारियों के साथ गढ़पुरा प्रखंड के मौजी हरिसिंह पंचायत के विभिन्न गांव समेत अन्य इलाकों में जाकर वस्तु स्थिति से अवगत कराते हुए लोगों से वैक्सिन लेने की अपील की। इसके बाद लोग काफी प्रभावित हुए और टीकाकरण स्थल पर जाकर टीका लगवाया। वहीं, दूसरी ओर बेगूसराय प्रखंड के मुस्लिम बाहुल्य गांव लडुआरा तथा खोदावंदपुर प्रखंड के सिरसी में लोगों ने वैक्सीनेशन का बहिष्कार किया। जिसके बाद तमाम अधिकारी गांव पहुंचे और लोगों को वैक्सीन की उपयोगिता में सही जानकारी देकर वैक्सीन लेने के लिए प्रेरित किया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं बुद्धिजीवियों ने भी काफी मदद की, जिसके बाद लोग वैक्सीन लेने के लिए तैयार हुए। डीपीआरओ भुवन कुमार ने बताया कि सदर अनुमंडल पदाधिकारी के पहल पर लडुआरा में रिफ्यूजल समाप्त कर टीकाकरण का कार्य प्रारंभ करवाया गया। वहीं, मंझौल अनुमंडल पदाधिकारी के पहल पर सिरसी में रिफ्यूजल समाप्त कर टीकाकरण का कार्य प्रारंभ करवाया गया है। जिला पदाधिकारी के निर्देशानुसार आज भी जिलेे के तमाम प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी एवं अन्य जिलास्तरीय पदाधिकारियों के द्वारा भी क्षेत्र भ्रमण कर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित किया गया। इसके अलावा सभी विभागीय अधिकारीी, कर्मचारीी, जीविका दीदी एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा कोरोना से बचाव के लिए टीका लेने के लिए गांव-गांव, घर-घर जाकर लोगों को प्रेरित किया जा रहा है। वैक्सीनेशन को लेकर फैलाए जा रहे अफवाह के मद्देनजर डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने अपील करते हुए कहा कि टीकाकरण से संबंधित भ्रामक खबरों अथवा अफवाहों पर विश्वास नहीं करें। टीकाकरण की बारी आने पर टीका अवश्य लगाएं। कोविड का टीका पूरी तरह से सुरक्षित है तथा इसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है। सोशल मीडिया फेसबुक, व्हाट्स-अप आदि पर प्रचारित भ्रांतियों पर भरोसा नहीं करें। टीका से कोरोना संक्रमण के विरूद्ध शरीर की प्रतिरोधक क्षमता तो मजबूत होती है। यह कोरोना संक्रमण होने की स्थिति में गंभीर रूप से बीमार होने से भी बचाती है। टीकाकरण के दौरान सभी प्रोटोकॉल एवं सुरक्षा के मानकों का ख्याल रखा जाता है। इसलिए कोविड टीका के प्रति किसी भी प्रकार के दुराग्रह रखने के बजाय टीकाकरण टीम को आवश्यक सहयोग करें। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा