निरंतर प्रयास और आपसी एकजुटता से कोरोना मामले में आई गिरावट: तारकिशोर प्रसाद

निरंतर प्रयास और आपसी एकजुटता से कोरोना मामले में आई गिरावट: तारकिशोर प्रसाद
due-to-continuous-efforts-and-mutual-solidarity-there-was-a-decline-in-the-corona-case-tarkishore-prasad

पटना, 08 जून (हि.स.)। बिहार में लॉकडाउन में दी गई छूट के संबंध में उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि निरंतर प्रयास एवं आपसी एकजुटता से कोरोना के मामलों में गिरावट आई है। इसमें लॉकडाउन से काफी लाभ मिला है। उन्होंने कहा कि 9 जून से 15 जून तक सरकार ने लॉकडाउन में कुछ और रियायतें देने का निर्णय किया है। अब 6 बजे सुबह से लेकर 5 बजे शाम तक एक दिन के अंतराल पर दुकानें खुलेंगी। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि आवश्यक सेवाओं, बैंकिंग, बीमा, औद्योगिक एवं विनिर्माण कार्य, सभी प्रकार के निर्माण कार्य, ई-कॉमर्स से जुड़ी सेवाएं, कृषि एवं इससे जुड़े कार्य, प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, टेलीकम्युनिकेशन, इंटरनेट, ब्रॉडकास्टिंग केबल सेवा इत्यादि गतिविधियां, पेट्रोल पंप, एलपीजी, पेट्रोलियम, कोल्ड स्टोरेज एवं वेयरहाउसिंग, निजी सुरक्षा सेवाएं, ठेला पर फल एवं सब्जी की घूम-घूम कर बिक्री, उर्वरक, बीज, कीटनाशक और कृषि यंत्रों से संबंधित प्रतिष्ठान/दुकानें, आवश्यक खाद्य सामग्री तथा फल एवं सब्जी, मांस-मछली, दूध, पीडीएस की दुकानें प्रतिदिन प्रातः 6 बजे से संध्या 5 तक खुलेंगी। उन्होंने कहा कि इसके अलावा 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ सरकारी एवं निजी कार्यालयों में भी काम होंगे। सार्वजनिक परिवहन में 50 प्रतिशत यात्रियों को बैठाने की छूट दी गई है तथा निजी वाहन के परिचालन और पैदल आवागमन पर प्रतिबंध हटा लिया गया है। सार्वजनिक एवं निजी वाहनों तथा दुकानों/प्रतिष्ठानों में मास्क का उपयोग अनिवार्य किया गया है। राज्य में संध्या 7 बजे से प्रातः 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू को लागू किया गया है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के काफी सकारात्मक परिणाम मिले हैं। कोरोना संक्रमण की दर में काफी कमी आई है। लॉकडाउन के प्रतिबंधों के माध्यम से कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने में सफलता मिली है। साथ ही कहा कि लॉकडाउन में रियायत देकर आम जनजीवन को सामान्य करने की दिशा में हम धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं, परंतु अभी भी आवश्यकता इस बात की है कि कोरोना संक्रमण के प्रति सचेत एवं सतर्क रहा जाए तथा कोरोना मार्गनिर्देशों का पूरी सावधानी के साथ अनुपालन किया जाए। हिन्दुस्थान समाचार/गोविन्द