corona-bomb-explodes-in-begusarai-88-new-ones-found-on-thursday
corona-bomb-explodes-in-begusarai-88-new-ones-found-on-thursday
बिहार

बेगूसराय में फूटा कोरोना बम, गुरुवार को मिले 88 नए संक्रमित

news

बेगूसराय, 08 अप्रैल (हि.स.)। बेगूसराय जिला में कोरोना का अब तक का सबसे जबरदस्त विस्फोट हो गया है। यहां गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 88 नए मामले सामने आए हैं, इसके साथ ही होम आइसोलेशन सहित इलाज करा रहे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 169 हो गई है। डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने बताया कि गुरुवार को 88 नए मामले सामने आए हैं, जबकि दस व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है। नए प्रभावितों में बेगूसराय सदर प्रखंड के 59, तेघड़ा प्रखंड के छह, बरौनी प्रखंड के आठ, बखरी प्रखंड के तीन, चेरिया बरियारपुर प्रखंड के एक, भगवानपुर प्रखंड के दो, बलिया प्रखंड के दो, मटिहानी प्रखंड के दो तथा साहेबपुर कमाल प्रखंड के एक व्यक्ति शामिल हैं। सभी नए प्रभावित व्यक्तियों का निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत ईलाज के साथ ही कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एवं जोखिम क्षेत्र निर्धारण कार्य शुरू कर दिया गया है। यदि किसी व्यक्ति में कोविड-19 संक्रमण के लक्षण खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ या अन्य लक्षण दिखे तो तुरंत नजदीकी प्राथमिक चिकित्सा केंद्र से तत्काल संपर्क करें। डीएम ने बताया कि कोरोना संक्रमण में लगातार वृद्धि के मद्देनजर महाराष्ट्र से ट्रेन के जरिए वापस लौटने वाले सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग सूनिश्चित करने की जिला प्रशासन द्वारा तैयारी की जा रही है। महाराष्ट्र से वापस लौटने वाले शत-प्रतिशत यात्रियों की कोरोना जांच सुनिश्चित करने के लिए एपीएसएम कॉलेज बरौनी को कोविड जांच केंद्र के रूप में चिन्हित किया गया है। शौचालय, पर्याप्त विद्युत आपूर्ति, यात्रियों के लिए अल्पाहार, स्वच्छ पेयजल, एंबुलेंस आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। ट्रेन से आने वाले यात्रियों को जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराए गए बस के जरिए कॉलेज लाकर एंटीजन टेस्ट किया जाएगा। वायरस से संक्रमित पाए जाने पर कोविड केयर सेंटर रामधारी सिंह दिनकर इंजीनयरिंग कॉलेज में आवश्यक ईलाज तथा स्वास्थ्य निगरानी के लिए रखा जाएगा। कोविड जांच केंद्र में फिलहाल दस चिकित्सा दलों की प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश दिया गया है। डीएम ने कहा कि अनावश्यक रूप से घर से बाहर नहीं निकलें तथा सार्वजनिक स्थलों पर जाने की स्थिति में मास्क का प्रयोग तथा सामाजिक दूरी का अनुपालन करें। भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचे तथा लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें। 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोग टीका ले और प्रोटोकॉल का पालन करें। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा