इंडो नेपाल बॉर्डर पर एसएसबी और नेपाल एपीएफ की कौरडिनेशन की बैठक सम्पन्न

इंडो नेपाल बॉर्डर पर एसएसबी और नेपाल एपीएफ की कौरडिनेशन की बैठक सम्पन्न
conciliation-meeting-of-ssb-and-nepal-apf-concluded-on-indo-nepal-border

बेतिया, 24 मार्च (हि.स.)। इंडो नेपाल बॉर्डर पर सशस्त्र सीमा बल 21वी वाहिनी ने गंडक बराज पर बुधवार को पड़ोसी देश नेपाल के एपीएफ के अधिकारियो के साथ समन्वय बैठक की। इस महत्वपूर्ण बैठक की अध्यक्षता एसएसबी 21वीं वाहिनी के कमांडेंट राजेंद्र भारद्वाज ने की। नेपाल के तीन जिलों के डीएसपी सहित तीन क्षेत्रों के इंस्पेक्टर भी इस समन्वय बैठक में शामिल हुए। कमांडेंट भारद्वाज ने बताया कि सीमा क्षेत्र में शांति, सद्भभाव,कायम करने और असमाजिक तत्वों पर लगाम लगाने की नियत से प्रत्येक महीने दोनों देशों के अधिकारियों की मौजूदगी में समन्वय बैठक की जाती है। गंडक नदी के रास्ते दोनों देशों की लंबी खुली सीमा होने के कारण शराब कारोबारियों,वन अपराधियों और असमाजिक तत्वों पर दोनों देशों के द्वारा पैनी निगाह रखी जाएगी। शराब तस्कर खुली सीमा का फायदा उठा सकते हैं।जिसपर नदी के रास्ते होने वाले प्रत्येक गतिविधि पर कड़ी नजर रखने की सहमति बनी। होली पर्व को देखते हुए शराब तस्करों के द्वारा भारी मात्रा में शराब तस्करी कर नदी के रास्ते वाल्मीकि नगर क्षेत्र में लाने की संभावना को देखते हुए दोनों देश के सशस्त्र बल के द्वारा पैनी निगाह रखने, नियमित रूप से ज्वाइंट पेट्रोलिंग करने की रणनीति तय की गई। बॉर्डर खोले जाने को लेकर पूछे जाने पर कमांडेंट भारद्वाज और नेपाली क्षेत्र के अधिकारियों ने बताया कि अभी दोनों देशों के वरीय अधिकारियों के द्वारा गंडक बराज के रास्ते आवागमन शुरू करने को लेकर कोई भी दिशा-निर्देश प्राप्त नहीं है। भारत सीमा से सटे नेपाल के सुस्ता क्षेत्र में अनाधिकृत रूप से कई शराब की दुकानें संचालित की जा रही हैं जिसकी सूची एसएसबी के द्वारा नेपाली अधिकारियों को सौंपी गई है जिसमें एक दुकान अधिकृत है। जिसके दुकान के मालिक का नाम विजय साह है। जबकि कई दुकानें अनाधिकृत रूप से संचालित की जा रही हैं। अधिकारियों ने बताया कि दोनों देश के भगोड़े अपराधियों पर भी आपसी समन्वय स्थापित कर पैनी निगाह रखी जा रही है। ऐसे लोगों को चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी। पॉपुलर फ्रंट की एक्टिविटी पर भी निगाह कमांडेंट भारद्वाज ने बताया कि जम्मू कश्मीर में पौपुलर फ्रंट की एक्टिविटी नजर आयी है, जिसके सम्पर्क और तार नेपाल के कुछ ट्रेडर्स से जुुडे होने की खबर मिल रही है। जिनके द्वारा हवाला कारोबारियों को फायदा पहुंचाने की भी सूचना मिल रही है। ऐसे लोगों को चिन्हित कर दोनों देशों के द्वारा कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर एस बी कमांडेंट राजेंद्र भारद्वाज, कमांडेंट बगहा 65वी वाहिनी अरविंद कुमार, ऋषिकेश कुमार सहायक कमांडेंट गंडक बराज के अलावा नेपाली अधिकारियों में एपीएफ के डीएसपी चितवन 17 बटालियन नेपाल के सुशिल शाही, डीएसपी नवलपुर वीरभद्र नाथ सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार / अमानुल हक/चंदा

अन्य खबरें

No stories found.