युवा राजद तथा छात्र राजद के संयुक्त तत्वावधान में मुख्यमंत्री का जलाया गया पुतला

युवा राजद तथा छात्र राजद के संयुक्त तत्वावधान में मुख्यमंत्री का जलाया गया पुतला
chief-minister39s-effigy-was-burnt-under-joint-aegis-of-young-rjd-and-student-rjd

भागलपुर, 24 मार्च (हि.स.)।बेरोजगार छात्र, युवाओं के रोजगार समेत अन्य जनहित से जुड़े मुद्दों के साथ-साथ प्रस्तावित जनविरोधी काला कानून "बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक 2021 और विधायकों की बर्बरतापूर्वक की गई पिटाई के विरोध में बुधवार को युवा राजद ने स्टेशन चौक भागलपुर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन किया। इस मौके पर नेताओं ने कहा कि यदि सरकार यथाशीघ्र चुनाव पूर्व किए गए वायदे के अनुसार 19 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार नहीं देती है तो आगे और भी उग्र आंदोलन किया जाएगा। पुतला दहन के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित पीरपैंती के पूर्व विधायक रामविलास पासवान ने अपने संबोधन में कहा कि कल सत्ता के इशारे पर जिस प्रकार सदन से सड़क तक पुलिस द्वारा विधायकों तथा युवा राजद कार्यकर्ताओं की पिटाई करवाई गई है यह जलियांवाला बाग की याद ताजा करवा रहा है। राजद जिलाध्यक्ष चन्द्रशेखर यादव ने कहा कि नीतीश कुमार लाठी और गोली के बल पर जनता की आवाज दबाने का प्रयास कर रहे हैं जो कतई सम्भव नहीं है। राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश महासचिव डॉ. चक्रपाणि हिमांशु ने कहा कि कल का दिन बिहार के इतिहास में काला दिवस के रूप में याद किया जाएगा। युवा राजद के प्रदेश महासचिव डॉ. आनन्द आजाद तथा मो. मेराज अख्तर उर्फ चाँद ने संयुक्त रूप से कहा कि नीतीश कुमार ने कल सदन से सड़क तक लाठी चलवाकर लोकतन्त्र की हत्या करने का कार्य किया है हिन्दुस्थान समाचार/बिजय

अन्य खबरें

No stories found.