केंद्र एवं राज्य सरकार की नीतियों कजनता के प्रति निरंकुशता की सारी हदें लांघ रही है सरकार : अजीत शर्मा

केंद्र एवं राज्य सरकार की नीतियों कजनता के प्रति निरंकुशता की सारी हदें लांघ रही है सरकार : अजीत शर्मा
central-and-state-government-policies-are-crossing-all-limits-of-autocracy-towards-the-people-ajit-sharma

भागलपुर, 25 मार्च (हि.स.)। बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के निर्देशानुसार गुरुवार को स्टेशन चौक पर जिला कांग्रेस कमिटी ने किसान सत्याग्रह के समर्थन, आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि एवं बीते 23 मार्च को विधानसभा में विपक्षी दलों के विधायकों के साथ सरकार एवं पुलिस की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई के खिलाफ एक दिवसीय धरना दिया। विधायक सह बिहार कांग्रेस विधान मंडल दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार एवं बिहार के नीतीश सरकार जनता के प्रति निरंकुशता की सारी हदें लांघ रही है। बिहार विधान सभा में नीतीश सरकार के निर्देश पर विपक्षी पार्टी के विधायक नीतीश सरकार द्वारा लाये बिहार सशस्त्र पुलिस विधेयक का विरोध कर रहे थे, क्योंकि इस विधेयक के माध्यम से पुलिस किसी के भी घरों में बिना वारंट के घुसकर कभी भी तालाशी ले सकती है एवं किसी को भी गिरप्तार कर सकती है। यह कानून कश्मीर जैसे अशांत राज्य में केन्द्र सरकार द्वारा थोपे गये कानून के समान है। जिससे पुलिस जनता पर पुलिस जुल्म में बढ़ोतरी होगी और न्यायालय की भूमिका गौण हो जायेगी। शर्मा ने कहा कि मोदी सरकार देश में बढ़ती मँहगाई को रोकने में पूरी तरह असफल रही है। जबकि मोदी सरकार झूठे वादों एवं सुनहरे सपने दिखाकर सत्ता में आयी है। कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी के नेतृत्व में आगामी लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार को सत्ता से उखाड़ फेकने का काम करेगी। कार्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अनिल शर्मा ने कहा कि नीतीश सरकार का व्यवहार हमें अंग्रेजी हुकुमत की बर्बरता का एहसास करा रही है। महँगाई आसमान छू रही है, बेरोजगारी तेजी के साथ बढ़ रही है तथा देश तेजी से आर्थिक मोर्चों पर पिछड़ रहा है। इसलिए ऐसी सरकार को उखाड़ फेकना आवश्यक है। जिसके लिए कांग्रेस पार्टी सतत् आन्दोलन कर रही है। कार्यक्रम के उपरान्त एक शिष्ट मंडल द्वारा जिला पदाधिकारी, भागलपुर से मिलकर महामहिम राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन सौंपा गया। हिन्दुस्थान समाचार/बिजय/चंदा