budget-is-the-budget-for-all-round-development-tarkishore-prasad
budget-is-the-budget-for-all-round-development-tarkishore-prasad
बिहार

बजट सर्वांगीण विकास का बजट है:तारकिशोर प्रसाद

news

-पूर्व पीएम अटल जी की पंक्तियों ने बजट की शुरुआत की वित्त मंत्री ने, पटना, 22 फरवरी (हि.स.)।बिहार का आम बजट उपमुख्यमंत्री सह वित्तमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने विधानमंडल में शेरो शायरी के साथ शुरू की।उन्होंने इस मौके पर पर पूर्व प्रधानमन्त्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी की पंक्तियां के साथ शुरुआत करते हुए कहा कि ,बाधाएं आती हैं आएं,घिरें प्रलय की घोर घटाएं,पांवों के नीचे अंगारे,सिर पर बरसें यदि ज्वालाएं,निज हाथों से हंसते-हंसते,आग लगाकर जलना होगा। कदम मिलाकर चलना होगा।विपत्ति और बाधाओं से हम घबराते नहीं है। हम मिलकर सतत संघर्ष करते हैं क्योंकि यही जीवन का ध्येय है। वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि ये बजट सर्वांगीण विकास का बजट है। सीएम नीतीश कुमार की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 में कोरोना संकट के बाद शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार समेत सभी जनसरोकार के मुद्दे पर काम किया है।तारकिशोर प्रासद ने कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 में राज्य सरकार सात निश्चय पार्ट-2 के जरिए आत्मनिर्भर बिहार पर अपना फोकस दिया है। वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने बजट पेश करते हुए कहा कि बिहार सरकार ने कोरोना लॉकडाउन के दौरान बाहर फंसे राज्य के लोगों को 1,000 रुपये देने की काम किया, रेल श्रमिक गाड़ी से राज्य के बाहर फंसे लोगों को लाया गया।गरीबों को सीधे बैंक में स्थानांतर (डीबीटी) के जरिये 1,000 रुपये भेजे गए, तीन महीने की अग्रिम वृद्धा पेंशन की सुविधा, बिहार में कोरोना के रिकवरी रेट में लगातार सुधार हो रहा है। तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि कोविड ने अर्थव्यवस्था को तनाव में डाला, राज्य सरकार ने केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम किया। कोविड 19 को पराजित करने की पूरी कोशिश की। कोरोना महामारी के दौरान बिहार सरकार ने कई महत्वपूर्ण कार्य किए। लोगों को निशुल्क भोजन देने की सुविधा दी गई, प्रखंड और पंचायत स्तर पर क्वारंटाइन सेंटर बने। वित्त मंत्री ने कहा कि राजग सरकार के बनने के साथ ही सात निश्चय पार्ट-2 पर काम की शुरआत हो चुकी है। तारकिशोर ने इसके लिए4,671 करोड़ रुपये स्वीकृत किये हैं। 4643 टोलो के लिए योजना की स्वीकृत दी गई है। तीन नए मेडिकल कॉलेज निर्माण की प्रक्रिया जारी है।सभी 38 जिलों को ओडीएफ घोषित किया गया जा चुका है।हमने लक्ष्य के हिसाब से सफलता प्राप्त किया है।उच्चस्तरीय सेंटर फॉर एक्सीलेंस बनाया जायगा।कोविड-19 की रोकथाम के लिए बिहार में प्रति दस लाख जनसंख्या पर 1.72 लाख लोगों की जांच की गई। शहरी क्षेत्रों में नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा 3340 वार्डों में कार्य प्रारंभ कर 2735 वार्डों में कार्य पूर्ण किया गया है। गली नाली में 114200 वार्डों में काम पूरा हो चुका है। तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि नेटवर्किंग, आईटी समेत कई ट्रेड में ट्रेनिंग दी जाएगी। हर जिले में मेगा ट्रेनिंग सेंटर बनाए जाएंगे। इनमें रोजगारोन्मुखी स्कील की ट्रेनिंग दी जाएगी।हर प्रमंडल में टूल रूम और ट्रेनिंग सेंटर की स्थापना की जायेग़ी। शहरी क्षेत्रों में नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा 3,340 वार्डों में कार्य प्रारंभ कर 2,735 वार्डों में कार्य पूर्ण किया गया है।इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए 110 करोड़ रुपये की स्वीकृति बजट में तारकिशोर प्रसाद ने दी।महिलाओं के लिए 200 करोड़ रुपये व्यय का उपबंध के साथ राजगीर में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना होगी। जारी....... हिन्दुस्थान समाचार/गोविन्द

AD
AD