bihar-budget-session-of-legislature-begins-with-governor39s-address
bihar-budget-session-of-legislature-begins-with-governor39s-address
बिहार

बिहारः राज्यपाल के अभिभाषण के साथ विधान मंडल के बजट सत्र की शुरुआत

news

- राज्यपाल ने कहा- आत्मनिर्भर बिहार सरकार का संकल्प, कोरोना वायरस और टीकाकरण को लेकर की चर्चा पटना, 19 फरवरी (हि.स.)। बिहार के राज्यपाल फागू चौहान के अभिभाषण के साथ ही आज विधान मंडल के बजट सत्र की शुरुआत हो गई है। राज्यपाल ने दोनों सदनों के सदस्यों को संबोधित किया। अपने 41 मिनट के अभिभाषण में राज्यपाल फागू चौहान ने आत्मनिर्भर बिहार सरकार का संकल्प तथा कोरोना वायरस (कोविड-19) और टीकाकरण को लेकर चर्चा की। राज्यपाल ने बजट सत्र की शुरुआत करते हुए बिहार विधानसभा और विधान परिषद सदस्यों की संयुक्त सभा में कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखना सरकार की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कोरोना और टीकाकरण पर चर्चा की। उन्होंने कोरोना में सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की चर्चा करते हुए कहा कि केंद्र सरकार के निर्देश पर बिहार में टीकाकरण कार्य किया जा रहा है। राज्यपाल ने कोरोना काल में नागरिकों की बेहतरी और उनकी सुरक्षा के लिए सरकार के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने बिहार में रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए सरकार के प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बिहार के हर व्यक्ति को कोरोना का टीका मुफ्त दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बिहार के हर पांच गांव पर एक अस्पताल होगा। प्रदेश में नए मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज खोले जाएंगे। उन्होंने प्रत्येक जिले में युवाओं के लिए मेगा स्किल खोलने की बात कही। राज्यपाल ने कहा कि बिहार सरकार न्याय के साथ विकास कर रही है। सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति पर चल रही है। सरकार हर क्षेत्र में काम कर रही है। उन्होंने युवाओं को रोजगार, महिला उत्थान आदि क्षेत्रों में सरकार के कामकाज की तारीफ की। बिहार में महिलाओं को सशक्त बनाया जा रहा है। शिक्षक नियोजन में महिलाओं को 50 प्रतिशत का आरक्षण दिया गया है। राज्य सरकार की अन्य नौकरियों में भी महिलाओं के लिए आरक्षण का प्रावधान किया गया है। नीतीश सरकार के सात निश्चय-2 का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसके अंतर्गत महिला, युवा, किसान समेत सात महत्वपूर्ण बिंदुओं पर काम किया जा रहा है। विपक्ष की टोकाटाकी के बीच राज्यपाल ने 41 मिनट तक सत्र को संबोधित किया। ऱाज्यपाल ने कहा कि महिलाओं को सशक्त और स्वालंबी बनाने के लिए पांच लाख रुपये तक का ब्याजमुक्त ऋण दिया जाएगा। वृद्धजनों के लिए बिहार में आश्रय स्थल बनाए जाएंगे। छात्राओं को 50 हजार रुपये तक की मदद सरकार उपलब्ध कराएगी। इससे पहले राज्यपाल फागू चौहान बिहार बजट सत्र के लिए विधानसभा पहुंचे तो मुख्यमंत्री नीतीश और विधानसभा अध्यक्ष ने बुके देकर उनका स्वागत किया। सीएम नीतीश और संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा को भी बुके देकर अभिवादन किया। महंगाई के खिलाफ लकड़ी और मिट्टी के चूल्हे के साथ विधानसभा पहुंचे कांग्रेसी विधायक बिहार विधानमंडल बजट सत्र शुरू होने से पहले विपक्ष के तेवर तीखे दिखाई देने लगे हैं। सत्र शुरू होने से पहले ही महंगाई के खिलाफ लकड़ी और मिट्टी के चूल्हे के साथ कांग्रेसी विधायक दल के नेता अजित शर्मा के साथ दो अन्य विधायक विधान सभा पहुंचे। यह देखकर सत्र हंगामेदार रहने के आसार हैं। विपक्ष बिहार में महंगाई, किसान आंंदोलन समेत पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों पर सरकार को घेरने की तैयारी कर रही है। सीएम नीतीश ने बजट सेशन के लिए दी शुभकामनाएं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार बजट सेशन के लिए शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने बिहार के विकास के लिए मिलजुलकर काम करने की उम्मीद जताते हुए नये विधायकों का स्वागत किया है। सीएम नीतीश ने ट्वीट करते हुए लिखा कि आज से विधान सभा का सत्र शुरू हो रहा है। सभी को शुभकामनाएं। सदन में पहली बार चुनाव जीतकर आए साथियों का विशेष स्वागत है। मुझे पूरी उम्मीद है कि विकसित बिहार के सपने को पूरा करने के लिए हम सब एकजुट होकर काम करेंगे। पहली बार उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद पेश करेंगे बजट बिहार बजट पहली बार उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद पेश करने जा रहे हैं। इससे पहले बिहार बजट पूर्व उपमुख्यमंत्री पेश करते आ रहे हैं। इस बार सुशील मोदी को भाजपा ने राज्यसभा सांसद बनाया है। 22 कार्यदिवसों वाले बजट सत्र में 22 फरवरी को बजट सदन में पेश किया जाएगा। इस बार के बजट सत्र में विधानमंडल में नौ विधेयक पेश होने की संभावना है। हिन्दुस्थान समाचार/गोविन्द

AD
AD