bhojpur-dm-sp-banned-dj-and-dance-song-due-to-increasing-threat-of-corona
bhojpur-dm-sp-banned-dj-and-dance-song-due-to-increasing-threat-of-corona
बिहार

कोरोना के बढ़ते खतरे को ले भोजपुर के डीएम-एसपी ने डीजे और नाच गाना पर लगाया प्रतिबंध

news

आरा,29 अप्रैल(हि.स.)।भोजपुर के जिलाधिकारी रौशन कुशवाहा एवं पुलिस अधीक्षक राकेश दूबे ने कोविड-19 के बढ़ते खतरे और संक्रमण को देखते हुए जिले के सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों, थानाध्यक्षों, अंचलाधिकारियों, प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों और अनुमण्डलाधिकारियो के साथ गुरुवार को समीक्षात्मक बैठक की। समीक्षात्मक बैठक में मुख्य रूप से राज्य सरकार द्वारा जारी नई गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने का सभी अधिकारियों को निर्देश दिया गया है। भोजपुर के डीएम और एसपी के संयुक्त निर्देश के बाद अधिकारियों ने शाम चार बजते बजते शहर और जिले की सभी दुकानों को बंद कराने में सफल भूमिका निभाई है।जिले के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक की समीक्षात्मक बैठक के बाद यह निर्देश दिया कि आरा गोला की सब्जी मंडी सहित शहर की सभी सब्जी मंडियों को अपराह्न 12 बजे बन्द करा दिया जाय और उसके बाद मुहल्लों और कॉलोनियों में ठेले के माध्यम से सब्जी की बिक्री सुनिश्चित कराई जाए। हालांकि आदेश के निकलने के बाद पहले दिन गुरुवार को डीएम और एसपी के नए आदेश को लागू कराने में अधिकारी सफल नही हो सके और आरा सहित अन्य इलाकों की बड़ी सब्जी मंडियां शाम चार बजे तक खुली रही और उन सब्जी मंडियों में सब्जी बिक्री को ले शाम तक भीड़ लगी रही।शाम चार बजे के बाद ही सब्जी मंडियों की भीड़ छंट सकी। जिले के सभी थानाध्यक्षो को निर्देश दिया गया है कि शाम छः बजे से लेकर सुबह छः बजे तक रात्रि कर्फ्यू को सख्ती से लागू कराएंगे और अपने अपने थाना क्षेत्रों में स्थल चिन्हित कर वहां रात्रि कर्फ्यू के दौरान चेकिंग अभियान चलाएंगे। जिले के डीएम और एसपी ने संयुक्त आदेश में अधिकारियों को इस बात को भी सख्ती से लागू करने की बात कही है कि शादी समारोहों में अधिकतम 50 लोग ही शामिल होंगे और इसमें बाराती और सराती दोनों पक्षो के लोग होंगे।दोनों पक्षो को मिलाकर संख्या 50 से अधीक नही होनी चाहिए। इसके साथ ही श्राद्ध में 20 लोगो के ही शामिल होने के आदेश को भी सख्ती से लागू कराने का आदेश दिया गया है।डीएम और एसपी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को शादी विवाह में डीजे पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने का निर्देश दिया है और कहा है कि डीजे संचालकों को इस संबंध में निर्देशित कर दिया जाय। नई गाइडलाइन के तहत अब शादी विवाह के आयोजन रात्रि दस बजे तक पूरा कर लेना होगा और बारात में न ही डीजे बजेगा और न ही नाच गाने होंगे। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र