बागमती के जलस्तर में कमी का रूख, कोसी स्थिर

बागमती के जलस्तर में कमी का रूख, कोसी स्थिर
बागमती के जलस्तर में कमी का रूख, कोसी स्थिर

खगड़िया, 25 जुलाई (हि.स.)। कई दिनों तक लगातार बढ़ने के बाद बागमती नदी के जलस्तर में शनिवार को कमी का रुख देखा गया। हालांकि यह महज 6 सेंटीमीटर है लेकिन जलस्तर में कमी आता देख लोगों को थोड़ा सुकून मिल रहा है, जबकि कोसी नदी 6 सेंटीमीटर बढ़कर 35.87 मीटर जल स्तर पर स्थित है। बागमती नदी खतरे के निशान से 2.67 मीटर तथा कोसी नदी 2.02 मीटर ऊपर बह रही है। बूढ़ी गंडक और गंगा नदी के जलस्तर में वृद्धि का संकेत मिल रहा है हालांकि बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 0.34 मीटर तथा गंगा नदी का जलस्तर 0.97 मीटर नीचे है। बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल संख्या एक एवं दो के अधीन कॉल 13 स्थानों पर सीपेज को रोकने का काम चल रहा है। शनिवार को दिन साफ रहने का अनुमान बताया गया। मौसम विभाग के अनुसार केवल 1.23 एमएम वर्षा हो सकती है। इसे देखते हुए तटबंध के सुरक्षात्मक कार्य में तेजी आएगी। डीएम आलोक रंजन घोष ने बताया कि जिले की 129 पंचायतों में से 27 पंचायतें बाढ़ प्रभावित हैं। इन 27 पंचायतों के 88 गांवों के लगभग 55772 लोग बाढ़ से घिरे हुए हैं। 1144 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर रखा गया है। फिलहाल एक राहत कैंप चल रहा हैं तथा 20 सरकारी और 40 निजी नावों को लोगों के आवागमन के लिए तैनात किया गया है। इसके अलावा एसडीआरएफ की 2 टीमें राहत और बचाव कार्य के लिए जिले में तैनात की गई हैं। डीएम ने बताया कि जिले के सभी तटबंध सुरक्षित हैं। बाढ़ संबंधी सूचनाओं के आदान-प्रदान के लिए जिला स्तर पर एक कंट्रोल रूम बनाया गया है। डीएम ने लोगों से आग्रह किया है कि किसी भी तरह की जानकारी वह कंट्रोल रूम के टेलीफोन पर जिला प्रशासन को दे सकते हैं। उन्होंने किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान नहीं देने का अनुरोध लोगों से किया है। हिन्दुस्थान समाचार/ अजिताभ/हिमांशु शेखर/विभाकर-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.