awarded-to-the-candidates-who-performed-better-during-the-training
awarded-to-the-candidates-who-performed-better-during-the-training
बिहार

प्रशिक्षण के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैंडेट्स को किया गया सम्मानित

news

गयाा 09 जून (हि.स.)। गया-डोभी मुख्य सड़क मार्ग पर पहाड़पुर गांव के समीप स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी के प्रांगण में प्रशिक्षण के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैडेट्स को सम्मानित किया गया। ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी (ओटीए) के कमांडेंट लेप्टिनेंट जनरल जीएवी रेड्डी ने विभिन्न क्रिया-कलापों और प्रदर्शन के माध्यम से विश्वस्तरीय प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले सैन्य प्रशिक्षुओं को पुरस्कृत किया। तालियों की गूंज के बीच समारोह में प्रशिक्षण के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने वाले कैडेटों को पुरस्कृत किया गया। आगामी 12 जून को 19वी पासिंग आउट परेड का आयोजन किया जाएगा। इस पासिंग आउट परेड में स्पेशल कमीशन ऑफिसर-46 के 20 प्रशिक्षु भारतीय सेना में कमीशन प्राप्त करेंगे। इस मौके पर ओटीए के उप समादेशक एच.एस. सोही ने बताया कि भव्य पासिंग आउट समारोह का मुख्य आकर्षण पुरस्कार वितरण समारोह होगा। इसके साथ ही मेमोरियल सर्विस, मल्टी एक्टिविटी डिस्प्ले और पिपिंग सेरेमनी का भी आयोजन किया जाएगा। मल्टी एक्टिविटी डिस्प्ले के तहत कई मनोरंजक और राेमांचक कार्यक्रम का प्रदर्शन अफसर प्रशिक्षण अकादमी के प्रशिक्षु एवं भारतीय सेना के विभिन्न रैंकिंग की सहभागिता से किया जाएगा। इनमें जिमनास्टिक डिस्प्ले प्रदर्शन और पीटी डिस्प्ले, माइक्रोलाइट फ्लाइंग, घुड़सवारी प्रदर्शन एवं बैंड डिस्प्ले इत्यादि शामिल है। उन्होंने बताया कि हर वर्ष होने वाले पासिंग आउट परेड में शामिल होने के लिए कमीशन प्राप्त करने वाले अफसरों के स्वजनों को आमंत्रित किया जाता है। लेकिन इस बार कोरोना की वजह से ऐसा नहीं होगा। लेकिन वे सभी यू ट्यूब के माध्यम से कार्यक्रम को देख सकेंगे। इसकी व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि 19वीं पासिंग आउट परेड के पूर्व आज पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया है। इस पुरस्कार वितरण समारोह में एक साल प्रशिक्षण के दौरान उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले जैंटलमैन कैडेट को पुरस्कृत किया है। ऑफिसर्स प्रशिक्षण अकादमी गया देश में स्थित प्री सैन्य अकादमी में तीसरी इकाई है। ओटीए में एक साल के ट्रेनिंग पूरा कर ली है, वह पासिंग आउट परेड में पास आउट होंगे। इस पासिंग आउट परेड में एक भी विदेशी कैडेट शामिल नहीं है। वही कोविड-19 को देखते हुए जेंटलमैन कैडेट्स के अभिभावक और अन्य बाहरी लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/पंकज