भोजपुर में एम्बुलेंस संचालकों की मनमाने पैसे की वसूली पर प्रशासन की कार्रवाई,निर्धारित हो गया किराया

भोजपुर में एम्बुलेंस संचालकों की मनमाने पैसे की वसूली पर प्रशासन की कार्रवाई,निर्धारित हो गया किराया
administration-action-on-recovery-of-arbitrary-money-of-ambulance-operators-in-bhojpur-fare-fixed

आरा,04 मई(हि.स.)। जिले के आरा सदर अस्पताल सहित अन्य सभी अनुमण्डलीय और प्रखण्ड स्वास्थ्य केंद्रों में सेवा दे रहे निजी एम्बुलेंस संचालकों द्वारा कोरोना मरीजो को लाने ले जाने और शवों को श्मशान घाटों तक ले जाने के लिए परिजनों से वसूले जा रहे मनमाने पैसे पर बिहार सरकार के कृषि मंत्री सह स्थानीय आरा विधायक अमरेन्द्र प्रताप सिंह के सख्त तेवर के बाद भोजपुर के जिलाधिकारी रोशन कुशवाहा ने सिकंजा कसना शुरू कर दिया है। मंगलवार को निजी एम्बुलेंस संचालकों की मनमानी पर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।जिला प्रशासन ने निजी एम्बुलेंस का किराया निर्धारित कर दिया है।इस निर्धारित किराए से अधिक की राशि वसूली किये जाने पर एम्बुलेंस संचालकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की तैयारी जिला प्रशासन की तरफ से कर ली गई है। जिला प्रशासन द्वारा पहले दस किलोमीटर तक की दूरी के लिए एम्बुलेंस का किराया 1500 रुपये निर्धारित किया है।उसके बाद प्रति किलोमीटर 30 रुपये की राशि एम्बुलेंस के लिए तय की गई है। इसके साथ ही सिविल सर्जन या उनके द्वारा नामित अधिकारी को निजी और सार्वजनिक वाहनों को एम्बुलेंस का दर्जा देने की शक्ति प्रदान की गई है। सिविल सर्जन या उनके द्वारा नामित अधिकारी को विशेष परिस्थिति में एम्बुलेंस के किराए में 20 प्रतिशत की वृद्धि करने की शक्ति भी जिला प्रशासन की तरफ से दी गई है। एम्बुलेंस में आवश्यक चिकित्सकीय यंत्र, उपकरणों एवं सुविधाओं के संबंध में अस्पताल प्रशासन द्वारा लिए गए निर्णय का अनुपालन करना एंबुलेंस वाहन के स्वामियों के लिए बाध्यकारी कर दिया गया है। अब एम्बुलेंस संचालकों की मनमानी नही चल सकेगी। विगत कई दिनों से कोरोना के मरीजो एवं उनके परिजनों से एम्बुलेंस संचालक मनमाने पैसे की वसूली कर रहे थे। एम्बुलेंस संचालकों की मनमानी राशि वसूली से जिले के नागरिकों में आक्रोश बढ़ता जा रहा था। सोशल मीडिया पर भी तेजी से यह मामला वायरल होने लगा था। इस बीच कृषि मंत्री ने जिलाधिकारी को इस सम्बंध में कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया तो एम्बुलेंस संचालकों की मनमानी पर सिकंजा कसना शुरू हो गया है। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र