‘सियासत में सदाशयता‘ पुस्तक का मुख्यमंत्री ने किया लोकार्पण
‘सियासत में सदाशयता‘ पुस्तक का मुख्यमंत्री ने किया लोकार्पण
बिहार

‘सियासत में सदाशयता‘ पुस्तक का मुख्यमंत्री ने किया लोकार्पण

news

बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी की इस पुस्तक में उनके विचारों व तीन दर्जन आलेखों का वर्णन पुस्तक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की खूबियों और कार्यशैली का भी है उल्लेख पटना, 02 अगस्त (हि.स.) । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को अपने सरकारी आवास में बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी द्वारा लिखित ‘सियासत में सदाशयता‘ पुस्तक का लोकार्पण किया। विधानसभा सचिवालय द्वारा प्रकाशित इस पुस्तक में बिहार विधानसभा के वर्तमान अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी के विचार, महत्वपूर्ण विषयों पर उनके तीन दर्जन आलेखों और उनकी जीवन यात्रा को एक सूत्र में पिरोया गया है। विजय कुमार चौधरी ने अपने आलेख में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की खूबियों और उनके कार्यों का भी उल्लेख किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बारे में उद्धृत करते हुए पुस्तक में विजय कुमार चौधरी ने लिखा है कि, ‘किसी नेता में मानवता की तलाश करनी है तो नीतीश कुमार को आपदा की घड़ी में महसूस किया जा सकता है। समाज में शांति के लिए शासक जब रात में जागता है, तभी जनता चैन की नींद सोती है‘। ‘सियासत में सदाशयता‘ विजय कुमार चौधरी द्वारा लिखित आलेखों के संग्रह पर आधारित है, जिसमें उनके व्यक्तित्व के विभिन्न पहलुओं यथा- मृदुभाषिता, शालीनता, व्यवहार कुशलता आदि झलकते हैं । इस पुस्तक में उनकी जीवन यात्रा को यथार्थवादी तरीके से वर्णित किया गया है। पुस्तक की भाषा सबके लिए सुग्राह्य है। पुस्तक में विजय कुमार चौधरी द्वारा लिखे गये लगभग तीन दर्जन उपयोगी आलेखों से पाठकों की राजनीति, समाज और संविधान की जानकारी में इजाफा होगा। राजनेताओं और कानून के विद्यार्थियों के लिए पुस्तक में लिखे गये आलेख अत्यंत उपयोगी साबित होंगे। साथ ही इस पुस्तक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार के विकास के लिये विभिन्न क्षेत्रों में किये गये कार्य तथा लोगों के हितार्थ किये गये जन कल्याणकारी कार्यों को सारगर्भित तरीके से रखा गया है। इस पुस्तक में विजय कुमार चौधरी का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से जुड़ाव तथा उनके संबंधों की प्रगाढ़ता पर भी विस्तार से चर्चा है। ‘सियासत में सदस्यता‘ पुस्तक में विधानसभा की महत्वपूर्ण गतिविधियों, राष्ट्रमंडल संसदीय संघ भारत प्रक्षेत्र के छठे संकलन का सफल आयोजन, शराबबंदी कानून एवं जलवायु परिवर्तन पर विमर्श, विधानसभा की प्रक्रिया एवं कार्य संचालन नियमावली में सुधार तथा नियुक्ति की पारदर्शी प्रणाली बनाये जाने संबंधित अन्य विषयों पर चर्चा की गई है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन /विभाकर-hindusthansamachar.in