हेलमेट-सीटबेल्ट विशेष जांच अभियान में  वसूला  गया   8.5 लाख रुपये जुर्माना
हेलमेट-सीटबेल्ट विशेष जांच अभियान में वसूला गया 8.5 लाख रुपये जुर्माना
बिहार

हेलमेट-सीटबेल्ट विशेष जांच अभियान में वसूला गया 8.5 लाख रुपये जुर्माना

news

पटना, 29 अगस्त (हि.स)। परिवहन विभाग की ओर से पूरे प्रदेश में एनएच और एसएच पर शनिवार को विशेष हेलमेट-सीटबेल्ट जांच अभियान चलाया गया। डीटीओ, एमवीआई, ईएसआई और ट्रैफिक पुलिस द्वारा चलाये गए इस अभियान में बिना हेलमेट-सीटबेल्ट वाहन चलाने वाले 456 वाहन चालकों से 8.5 लाख रुपये जुर्माना के रूप में वसूले गये । परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। विभिन्न चौक- चौराहों के साथ एनएच और एसएच पर भी हेलमेट-सीटबेल्ट का प्रयोग नहीं करने वाले लोगों के खिलाफ रेंडमली जांच अभियान चलाने के लिए उड़न दस्ता का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि हेलमेट-सीटबेल्ट सुरक्षा का कवच है, वाहन चलाते समय सुरक्षा नियमों का पालन कर खुद की और दूसरों की भी जान बचा सकते हैं। हेलमेट और सीटबेल्ट पुलिस से बचने के लिए नहीं बल्कि , अपनी सुरक्षा के लिए लगाएं। दोपहिया चालकों को हेलमेट पहनना और चारपहिया वाहन चालकों को सीट बेल्ट लगाना अनिवार्य है। अगर वाहन चालक यातायात के नियमों का पालन करते हुए हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग करें तो सड़क दुर्घटना में नुकसान को काफी हद तक कम किया जा सकता है। सड़कों पर बिना नम्बर की चलने वाली गाड़ियों पर भी विशेष अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के दौरान बिना नंबर प्लेट की गाड़ियां पकड़े जाने पर जुर्माना लगाया जाएगा एवं वाहनों को जब्त करने की कार्रवाई की जाएगी। साथ ही बिना लगे वाहन को बेचने वाले डीलर के विरुद्ध भी कार्रवाई की जाएगी। परिवहन सचिव ने लोगों से भी अपील की है कि कृपया बिना नंबर प्लेट लगी गाड़ी की डिलीवरी ना लें अन्यथा वाहन जब्त किया जा सकता है। बताते चलें कि मोटरवाहन संशोधित अधिनियम 2019 को सख्ती लागू करने के कारण पटना समेत कई जिलों में हेलमेट धारण करने का प्रतिशत 90 से 95 प्रतिशत तक हो गया है। हिन्दुस्थान समचार /राजेश/विभाकर-hindusthansamachar.in