वर्चुअल रैली में सीएम को सुनने के लिए उमड़ पड़े  लोग
वर्चुअल रैली में सीएम को सुनने के लिए उमड़ पड़े लोग
बिहार

वर्चुअल रैली में सीएम को सुनने के लिए उमड़ पड़े लोग

news

मधुबनी,07 सितम्बर (हि .स.)। मधुबनी जिला मुख्यालय सहित सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की वर्चुअल रैली में जनमानस उमड़ पडा। सोमवार को आयोजित इस वर्चुअल रैली में शामिल होने के लिए स्क्रीन कैम्पों के सामने लोगों की भीड़ बनी रही। खासकर अल्पसंख्यक, महादलित परिवार व सवर्ण समाज से महिलाओं की सर्वाधिक भागीदारी मुख्यमंत्री को सुनने के लिए सबेरे से जुटने लगी थी। इधर सुदूर नेपाल सीमावर्ती इलाके के लौकही विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न पंचायतों में जदयू कार्यकर्ता सहित आमजनों की खासी भीड़ निश्चय संवाद स्क्रीन के सामने जुटी रही।खासकर मुख्यमंत्री को देखने-सुनने के लिए आधी आबादी की भीड़ सबेरे से ही लगने लगी थी। लौकही में राज्य के आपदा प्रबंधन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय के नेतृत्व में काफी लोग जुटे थे। इधर झंझारपुर प्रखंड के नवानी गांव में वर्चुअल रैली में मौजूद जदयू कार्यकर्ताओं तथा आमजनों ने बार-बार ताली बजाकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति आस्था जतायी। यहां पर रंजीत कुमार झा, अनूप कश्यप, डा संजीव कुमार झा सुधीर राय, अजय कुमार दास, संतोष दास, कपिल मंडल,महादेव मुखिया, पवन देवी,किरण देवी आदि ने भाग लिया। निश्चित संवाद की शुरुआत में जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा द्वारा मिथिला के पाग- दोपटा से मुख्यमंत्री का स्वागत किए जाने की रस्म पर यहां जयकारे लगे। मीना देवी के नेतृत्व में महिलाओं ने तालियां बजाईं। जयनगर में निश्चय संवाद सुनते जदयू कार्यकर्ताओं को काफी उत्साहित देखा गया। यहां पर जिला महासचिव कैलाश पासवान के साथ महादलित परिवार के लोगों ने सुबह से ही जदयू का झंडा—बैनर लिये बैठ गए थे।जदयू प्रदेश उपाध्यक्ष डा संजीव कुमार झा ने बताया कि मुख्यमंत्री के संवाद सुनने के लिए लोग स्वतः स्फूर्त जुटे। मधुबनी विधानसभा क्षेत्र के सरिसब पाही में रामबहादुर चौधरी के नेतृत्व में प्रबुद्ध लोगों की अच्छी भीड़ व आमजनों सहित महिलाएं मुख्यमंत्री को सुन रही थीं।फुलपरास में जदयू विधायक गुलजार देवी की नेतृत्व में कार्यकर्ताओं सहित आमजनों की लम्बी कतार पर्दे परदे के सामने खडी थी। बिस्फी प्रखंड के अल्पसंख्यक समुदाय की बस्तियों में संवाद में शामिल होने के लिए लोग सबेरे से ही एकत्रित थे। हिन्दुस्तान समाचार/लंबोदर झा/हिमांशु शेखर/विभाकर-hindusthansamachar.in