राजद विधायक समीर महासेठ  क्षेत्र में झेल रहे फजीहत, मुद्दा विकास का
राजद विधायक समीर महासेठ क्षेत्र में झेल रहे फजीहत, मुद्दा विकास का
बिहार

राजद विधायक समीर महासेठ क्षेत्र में झेल रहे फजीहत, मुद्दा विकास का

news

मधुबनी,14,अक्टूबर( हि.स.) । मधुबनी नगर से राजद विधायक समीर महासेठ को लोगों का कोपभाजन बनना पड़ रहा है।पिता स्व. राजकुमार महासेठ से विरासत मे मिली राजनीतिक पर खरे नही उतर पाए विधायक समीर महासेठ को लोग विकास के मुद्दे पर खूब खरी -खोटी सुना रहें हैं। कहीं रोड नहीं तो वोट नहीं तो कहीं मैथिली भाषा में बोलने की नसीहत मिल रही है । मधुबनी में नगर निगम का मुद्दा तो ग्रामीण इलाकों में सड़क ,बिजली और पानी की समस्याओं पर जनता उन्हें घेर रही है।विधानसभा चुनावों की तिथि नजदीक है।विधायक महासेठ का दिन भर क्षेत्र में भ्रमण जारी है। इस दौरान आमजन उनकी फजीहत कर रहे हैं और मीडिया वालों के प्रश्नों की बौछार भी उनपर हो रही । चुनाव की तिथि ज्यों -ज्यों नजदीक आ रही है त्यों-त्यों सरगर्मी भी परवान चढ़ रही है। मतदाता नेताओं से पांच साल का हिसाब लेना भूल नहीं रहे हैं। एक ऐसा ही नजारा शहर से सटे विधानसभा क्षेत्र के शंभुआड़ कैटोला गांव में देखने में आया । यहां मतदाताओं ने गांव के दोनों छोर पर रोड नहीं तो वोट नहीं का बैनर लगा दिया है। वहां बूढ़े ,बच्चे और युवा सभी वर्ग के लोग आक्रोशित दिखे। स्थानीय ग्रामीण महाकान्त ठाकुर, कुशेश्वर ठाकुर ,अमित पासवान, मन्नू सिंह, गुडडू पासवान ,अंशु सिंह, सुधाकर ठाकुर, गोविन्द ठाकुर प्रमोद दास ,हरेराम ठाकुर, प्रकाश चौपाल ,रामकुमार चौपाल ,रमेश चौपाल सहित सैकड़ों लोगों ने बताया कि लगभग दो हजार की आबादी की इस बस्ती में 1200 मतदाता हैं लेकिन यहां के सड़कों की सुध लेनेवाला कोई जनप्रतिनिधि नहीं है। पंचायत चुनाव में मुखिया पद के प्रत्याशी ने वचन दिया था । वे लोगों को ठग कर चुनाव जीत गए। दो दशक से यह सड़क जर्जर है ।पंद्रह साल तक भाजपा के रामदेव महतो विधायक रहे। इस समय राजद के समीर कुमार महासेठ विधायक हैं । दोनों दलों के जनप्रतिनिधि ने इस गांव को छला है।सभी चुनाव के समय आश्वासन दे देते हैं। जीतने के बाद भूल जाते हैं। युवाओं ने बताया कि ऐसा नहीं कि हमलोगों ने पहल नहीं की है। मुख्यमंत्री ,उपमुख्यमंत्री से लेकर डीएम तक से मिलकर आवेदन दिया लेकिन परिणाम नदारद है। इसबार ग्रामीणों ने शुरु से ही 'पहले रोड बाद में वोट' का नारा दिया है। ग्रामीणों ने बताया कि आम सहमति बनाकर वोट बहिष्कार का निर्णय लिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/लम्बोदर/विभाकर-hindusthansamachar.in