रघुवंश बाबू के निधन पर राजद में शोक, 7 दिनों तक झुका रहेगा पार्टी का झंडा
रघुवंश बाबू के निधन पर राजद में शोक, 7 दिनों तक झुका रहेगा पार्टी का झंडा
बिहार

रघुवंश बाबू के निधन पर राजद में शोक, 7 दिनों तक झुका रहेगा पार्टी का झंडा

news

प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद की घोषणा, तीन दिनों तक बंद रहेंगे पार्टी के सभी कार्यालय राजद के सभी राजनीतिक कार्यक्रम स्थगित, सिर्फ शोक का होगा आयोजन रघुवंश बाबू के एक-एक सुझाव हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण होते थेः जगदानंद पटना, 13 सितंबर (हि.स.)। वरिष्ठ नेता डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह के असामयिक निधन से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में शोक की लहर दौड़ गई। रविवार को पार्टी की ओर से आयोजित सभी कार्यक्रम तत्काल स्थगित कर दिये गये। पार्टी का झंडा झुका दिया गया। प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने पार्टी की ओर से सात दिनों तक शोक मनाने की घोषणा की। कहा, पार्टी का झंडा सात दिनों तक झुका रहेगा। पार्टी के सभी कार्यालय तीन दिनों तक बंद रहेंगे। इसके साथ ही शोक सभा के अलावा सभी कार्यक्रमों को स्थगित किया जाता है। जगदानंद ने रघुवंश बाबू के निधन को न केवल राजद परिवार के लिए, बल्कि अपना व्यक्तिगत क्षति बताया। कहा, विश्वास हीं नहीं होता कि इस प्रकार वे हमलोगों को छोड़कर चले जायेंगे। उनके एक-एक सुझाव हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण होते थे। भारतीय राजनीति में उनकी कमी की भरपाई संभव नहीं है। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामचन्द्र पूर्वे, प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता, प्रदेश प्रवक्ता चित्तरंजन गगन सहित पार्टी के तमाम नेताओं ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए न केवल राजद परिवार के लिए, बल्कि राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र के लिए अपूर्णीय क्षति बताया है। रघुवंश बाबू के निधन से पूरा राजद परिवार के साथ ही व्यक्तिगत रूप से मैं अत्यंत दुखीः राबड़ी पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह आज हम सब को छोड़ कर दुनिया को अलविदा कह गये। उनके निधन से पूरा राजद परिवार के साथ ही व्यक्तिगत रूप से अत्यंत दुखी और मर्माहत हूं। मेरे परिवार को दिया गया स्नेह, प्यार और राजद को दिया गया संबल सदा याद आएगी। रघुवंश बाबू का व्यक्तित्व विशाल था। वे राजद के स्तंभ थे। समाजवादी विचारधारा, धर्मनिरपेक्षता, गरीबों, वंचितों की सेवा उनका धर्म था। जीवन के अंतिम दिनों तक बिहार की चिंता उन्हें थी। मुख्यमंत्री को पत्र लिख कर महत्वपूर्ण सुझाव दिये। ऐसे जुझारू और समर्पित नेता यदा कदा जन्म लेते हैं। ईश्वर उनकी आत्मा को चिर शांति दें। परिजनों और सुभचिंतकों को इस शोक की घड़ी में शोक सहन की शक्ति दें। विधायक तेजप्रताप यादव, राज्यसभा सांसद मीसा भारती ने भी नम आंखों से रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/विभाकर-hindusthansamachar.in