युवक का पैथोलॉजी लैब ने दिया अलग-अलग ब्लड ग्रुप रिपोर्ट।
युवक का पैथोलॉजी लैब ने दिया अलग-अलग ब्लड ग्रुप रिपोर्ट।
बिहार

युवक का पैथोलॉजी लैब ने दिया अलग-अलग ब्लड ग्रुप रिपोर्ट।

news

जमुई,22 नवम्बर (हि.स.)। स्वास्थ विभाग की शिथिलता व अनदेखी के कारण जिले में कई पैथोलॉजी लैब बगैर लाइसेंस और गैरमानक रूप से संचालित हो रहे हैं। जिसपर स्वास्थ्य विभाग की कार्रवाई अबतक नहीं हो रही है।नतीजतन जिले में धड़ल्ले से कई पैथोलॉजी लैब अवैध रूप से संचालित हो रहे हैं।ऐसे लैब में अप्रशिक्षित टेक्नीशियन द्वारा कई दफा रिपोर्ट गलत दे दिया जाता है। इसी तरह का एक मामला शहर में रविवार को सुर्खियों में आया है।सिकंदरा थाना क्षेत्र के लछुआड़ गांव निवासी मोहम्मद नौशाद ने चिकित्सक द्वारा ब्लड जांच लिखने पर विगत 19 नंवबर को शहर के बोधवन तालाब स्थित मौर्या पैथोलॉजी सेंटर कराया था।जहां उसका रिपोर्ट ओ निगेटिव आया। लेकिन युवक को इस जांच से संतुष्टी नहीं होने के बाद उसने 22 नवम्बर को शहर के दो और पैथोलॉजी सेंटर में अपना ब्लड जांच कराया। जो शहर के अस्पताल रोड स्थित लाल पैथोलॉजी,जेल रोड स्थित सौरभ पैथोलॉजी लैब में अपना ब्लड जांच कराया।जब युवक का ब्लड जांच का रिपोर्ट आया तो उसका रिपोर्ट ए निगेटिव आया।तब युवक इस बात से परेशान हो गया कि आखिर कौन पैथोलॉजी सेंटर का रिपोर्ट सही है।बहरहाल आखिर एक ही व्यक्ति का तीन पैथोलॉजी सेंटर दो अलग-अलग रिपोर्ट आना बड़ा सवाल खड़ा करता है कि आखिर जांच की रिपोर्ट कौन सा सेंटर सही दे रहा है। अब तो यह जांच का विषय है विभाग द्वारा जांच के बाद ही सही रिपोर्ट की जानकारी हो पाएगी।गनीमत रही चिकित्सक ने युवक को ब्लड नहीं चढ़ाया अन्यथा युवक की जान जा सकती थी इस मामले में सिविल सर्जन जमुई ने कहा है कि एक ही व्यक्ति का दो अलग-अलग रिपोर्ट आना आश्चर्य की बात है। मामला संज्ञान में आया है। इन सभी पैथोलॉजी सेंटर का जांच किया जाएगा।यदि कोई इसमें दोषी पाया गया तो उसके विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। हिंदुस्थान समाचार/मुकेश कुमार-hindusthansamachar.in