यात्रियों से भरी नाव डूबी, 25 से अधिक लोग लापता, सभी किसान मजदूर खेती के लिए जा रहे थे दियरा
यात्रियों से भरी नाव डूबी, 25 से अधिक लोग लापता, सभी किसान मजदूर खेती के लिए जा रहे थे दियरा
बिहार

यात्रियों से भरी नाव डूबी, 25 से अधिक लोग लापता, सभी किसान मजदूर खेती के लिए जा रहे थे दियरा

news

भागलपुर, 05 नवम्बर (हि.स.)। पुलिस जिला नवगछिया के गोपालपुर थाना क्षेत्र स्थित दर्शन गंगा घाट पर यात्रियों से भरी एक नाव गुरुवार को डूब गई। जिसमें दर्जनों यात्री नदी में डूब गए। नाव को डूबता देख स्थानीय लोगों ने लगभग 30 से अधिक लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया, जबकि 25 से अधिक लोग पानी के धारा में बह गए।खबर लिखे जाने तक दो शव बरामद किया जा चुका था। प्रत्यक्षदर्शी पांडव कुमार यादव ने बताया कि तिनटंगा करारी के लगभग 70 से अधिक किसान मजदूर दियारा क्षेत्र मकई की खेती के लिए जा रहे थे। नाव को धक्का देकर जैसे ही खोलने की कोशिश की गई। नाव एक साइड से झुकने लगी। अफरा-तफरी में कई लोगों ने नाव से छलांग लगा दी। इसी बीच नाव भी नदी में समा गई। सूचना पर गोपालपुर थाने की पुलिस के अलावा जिले के प्रशासनिक अधिकारी भी मौके पर पहुंचे गए हैं। एसडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची हुई है।एसडीआरएफ के जवान स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहे हैं। जानकारी के अनुसार अभी भी करीब 20 से अधिक लोग लापता हैं। नदी से सुरक्षित निकाले गए लोगों को पानी में कुछ समय तक डूबे रहने की वजह से एहतियातन गोपालपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में क्षमता से अधिक मरीज के आ जाने से अफरा तफरी का माहौल हो गया। वहां जैसे तैसे आसमान के नीचे बेड की व्यवस्था की गई और नदी में डूबे लोगों का इलाज शुरू किया गया। लापता लोगों के परिजनों में दहशत का माहौल देखा गया। यह लोग बदहवास इधर-उधर भागते और लोगों से मदद की गुहार लगाते दिख रहे थे। जिनका शव बरामद किया गया था उनके परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था। नाव हादसे से पूरे इलाके में मातमी सन्नाटा पसर गया है। हिन्दुस्थान समाचार/बिजय-hindusthansamachar.in