भागलपुर और पटना में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना
भागलपुर और पटना में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना
बिहार

भागलपुर और पटना में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना

news

तीन सप्ताह में 0.96 से बढ़कर 2.26 प्रतिशत जन प्रतिनिधियों, राजनीतिक कार्यकर्ताओं और नौकरशाहों को अपनी चपेट में ले रहा कोरोना पटना, 18 अक्टूबर (हि.स.) । कोरोना के नये मामले की कम संख्या देखकर लोग भले यह खुशफहमी पाल लें कि जिले में कोरोना संक्रमण अब नियंत्रित होने लगा है लेकिन इसकी रफ्तार बता रही है कि बिहार में इसके मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। राजधानी पटना और भागलपुर में पिछले सप्ताह कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। भागलपुर के कोविड समर्पित अस्पताल जेएलएनएमसीएच के नोडल प्रभारी डॉ. हेमशंकर शर्मा का कहना है कि बीते तीन सप्ताह में भागलपुर जिले में कोरोना संक्रमण की दर में करीब 250 प्रतिशत तक का उछाल आया है। तीन सप्ताह पहले यानी 25 सितंबर के आसपास जिले में संक्रमण की दर जहां 0.96 प्रतिशत थी, वहीं आज की तारीख में बढ़कर 2.26 प्रतिशत हो चुकी है। यानी, पहले जहां 100 लोगों की जांच में एक आदमी कोरोना संक्रमित पाया जाता था, वहां अब दो से तीन लोग इसके शिकार हो रहे हैं। पटना जिले में तो कोरोना संक्रमण की दर आज की तारीख में 18 प्रतिशत है। डॉ. शर्मा कहते हैं कि बीते तीन सप्ताह में जिले में चुनावी सरगर्मी बढ़ने से कोरोना संक्रमण में तेजी आयी है। जांच में बड़ी संख्या में राजनीतिक पार्टियों से जुड़े पदाधिकारी, कार्यकर्ता व नेता कोरोना संक्रमण का शिकार हुए हैं। बीते दस दिन में एक जनप्रतिनिधि व उनका एक रसोइया, भाजपा के पांच कार्यकर्ता, जदयू, कांग्रेस व राजद से जुड़े 13 लोग जांच में कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। रैली-जनसभा व जनसंपर्क के दौरान बनायें दूरी कोरोना विशेषज्ञ डॉ. हेमशंकर शर्मा कहते हैं कि चुनावी रैली, जनसभा व जनसंपर्क एक ऐसा माध्यम है, जहां कोरोना संक्रमण फैलने की ज्यादा आशंका है। हाल के दिनों में जिस तरह के फोटो अखबारों में छपे हैं, उससे लगता है कि रैली ,जनसभा व जनसंपर्क अभियान के दौरान लोगों ने दो गज की दूरी व मॉस्क के इस्तेमाल का फार्मूला नहीं अपनाया तो स्थिति विस्फोटक हो सकती है। चूंकि इस दौरान दुर्गापूजा, दशहरा व आगे दीवाली व छठ जैसे पर्व हैं, जहां भीड़ जुटेगी ही। ऐसे में लोगों की लापरवाही से छठ के बाद कोरोना संक्रमण बेकाबू हो सकता है। ऐसे में लोग भीड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन/विभाकर-hindusthansamachar.in