ब्रोकर का दावा, रिया और सुशांत में बहुत झगड़े होते थे, सोसायटी से भी मिला था नोटिस
ब्रोकर का दावा, रिया और सुशांत में बहुत झगड़े होते थे, सोसायटी से भी मिला था नोटिस
बिहार

ब्रोकर का दावा, रिया और सुशांत में बहुत झगड़े होते थे, सोसायटी से भी मिला था नोटिस

news

पटना, 31 जुलाई (हि.स.)। सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में पटना पुलिस को शुक्रवार को ब्रोकर सनी सिंह ने बताया है कि रिया और सुशांत के बीच अक्सर झगड़ा हुआ करता था। वे दोनों अगले दो-तीन महीने में शादी करने वाले थे और दोनों अपने लिए एक लग्जरी फ्लैट के सिलसिले में उनसे मिले थे। सनी ने पटना पुलिस को बताया कि दोनों के बीच इतने झगड़े होते थे कि पूरी सोसाइटी परेशान थी। सोसाइटी की तरफ से दोनों को नोटिस भी जारी किया गया था। रिया सुशांत पर काफी हावी रहती थीं, फ्लैट के सिलसिले में भी रिया ही सनी से मिला करती थी। 8 जून को भी रिया ने मेरे सामने सुशांत से काफी झगड़ा किया था, इसके बाद ही वह सुशांत का घर छोड़कर चली गई थी। सनी ने बताया कि रिया से फ्लैट को लेकर उनकी कई बार मुलाकात हुई थी। फ्लैट में वह जिम, स्विमिंग पूल और तमाम लग्जरी सुख सुविधा चाहती थी, लेकिन सुशांत इसपर कुछ नहीं बोलते थे। वे रिया के साथ फ्लैट देखने आते जरुर थे, लेकिन वे फ्लैट देखने नहीं जातेे थे। महेश शेट्टी को प्राइम विटनेस बनाने की तैयारी पटना पुलिस सुशांत के खास दोस्त महेश शेट्टी को अपना प्राइम विटनेस बनायेगी। इसकी तैयारी भी शुरू कर दी गई गई है। पूछताछ में महेश शेट्टी ने बिहार पुलिस के सामने कई खुलासे किए। सुशांत सिंह नही चाहते थे कि उनका निजी स्टॉफ बदला जाए। लेकिन इसके बावजूद रिया चक्रवर्ती और उसकी माँ ने सुशांत सिंह के कई स्टाफ बदल दिये थे। इसमें वह बॉडीगार्ड भी शामिल है जो सुशांत के साथ हमेशा मौजूद रहता था। वह बॉडीगार्ड अलीगढ़ का रहने वाला था। रिया चक्रवर्ती ने उसे 22 मार्च यानी लॉक डाउन से ठीक पहले निकाल दिया था। महेश शेट्टी ने बिहार पुलिस को बताया है कि सुशांत सिंह अपने दोस्तों और बहनों से बात करने के बाद हर बार अपना मोबाइल रिसेट कर देते क थे क्योंकि रिया चक्रवर्ती को उनका किसी भी दोस्त या अपनी बहनों से बात करना बिल्कुल पसंद नहींं था। डीजीपी ने किया रिव्यू इस हाईप्रोफाइल केस का शुक्रवार को बिहार पुलिस के मुखिया गुप्तेश्वर पांडेय ने रिव्यू किया। डीजीपी के साथ एडीजी हेडक्वार्टर जितेंद्र कुमार, पटना सेंट्रल रेंज के आईजी संजय सिंह, एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा शामिल थे। डीजीपी ने मुंबई में चल रही इस केस की जांच का पूरा फीडबैक एसएसपी से लिया। इस मामले में आगे किस तरह से काम करना है इसको लेकर एसएसपी को कई अहम दिशा निर्देश डीजीपी की तरफ से दिए गए हैं। साथ ही कानूनी पहलुओं को ध्यान में रखकर काम करने को कहा गया है। संभावना है कि जल्द ही पटना पुलिस के अधिकारी मुंबई पुलिस के सीनियर अथॉरिटी से बात करेंगे, बिहार पुलिस की टीम को जांच में मदद करने को कहेंगे। उन्हें सरकारी गाड़ी उपलब्ध कराने को कहेंगे। संभावना है कि बिहार से एक आईपीएस के साथ दूसरी टीम को भी मुंबई भेजा जा सकता है। दर्ज हुआ डॉक्टर का बयान बिहार पुलिस ने शुक्रवार को सुशांत सिंह राजपूत का इलाज करने वाले डॉक्टर केसरी चावड़ा का बयान दर्ज कर लिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार डॉक्टर ने अपने बयान में बताया है कि नवंबर 2019 से वो सुशांत सिंह का इलाज कर रहे थे। फरवरी के आखिरी हफ़्तों से सुशांत दवा को रेगुलर तरीके से नहीं खा रहे थे। इसके बाद उनकी सलाह को भी वे धीरे-धीरे अनसुना करने लगे थे। दवा के ओवर डोज पर उन्होंने कहा कि मैंने तो सही दवा लिखी थी, लेकिन वे खाते कितनी थे यह हमें नहीं पता। सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले की जांच के बीच शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पीएमएलए के तहत केस दर्ज किया है। सुशांत के परिवार ने गर्लफ्रेंड रिया पर उसके अकाउंट से 15 करोड़ रुपए निकालने का आरोप लगाया था। हिन्दुस्थान समाचार /राजेश/विभाकर-hindusthansamachar.in