बूढ़ी गंडक का बांध टूटने की अफवाह से मचा हड़कंप, अधिकारियों को अलर्ट रहने का निर्देश
बूढ़ी गंडक का बांध टूटने की अफवाह से मचा हड़कंप, अधिकारियों को अलर्ट रहने का निर्देश
बिहार

बूढ़ी गंडक का बांध टूटने की अफवाह से मचा हड़कंप, अधिकारियों को अलर्ट रहने का निर्देश

news

बेगूसराय, 30 जुलाई (हि.स.)। बेगूसराय में गंगा के कटाव तथा बूढ़ी गंडक नदी में जलस्तर वृद्धि के साथ हो रहे कटाव और रिसाव को लेकर हड़कंप मचा हुआ है। सोशल मीडिया के माध्यम से फैल रही अफवाह लोगों को और भयभीत कर रहा है। गुरुवार को अफवाह फैल गई कि बूढ़ी गंडक नदी का बायां तटबंध बेगूसराय जिले के बसही में टूट गया है तथा लोग गांव छोड़कर भाग रहे हैं। इसके बाद जिले में भय का माहौल हो गया ।हालांकि माहौल बिगड़ने से पहले ही जिला प्रशासन ने इसका खंडन करते हुए लोगों से आतंकित नहीं होने की अपील की, जिसके बाद हालत स्थिर हुई है। बताया जा रहा है कि किसी जानवर के बिल से होकर देर रात रिसाव तेज हो गया था जिसके बाद मौके पर जुटे ग्रामीणों तथा विभागीय लोगों ने कार्रवाई शुरू कर दी तथा कठिन परिश्रम के बाद गुरुवार को रिसाव पर काबू पा लिया गया। इसी दौरान वहां से गुजर रहे एक बाइक चालक ने गांव में अफवाह फैला दी कि बांध टूट गया, तो गांव में अफरा-तफरी मच गई तथा सोशल मीडिया के माध्यम से यह अफवाह जोर-शोर से फैल गई। स्थानीय लोग ऊंची जगह पर शरण लेने के लिए भागने लगे। डीएम अरविन्द कुमार वर्मा ने बताया कि चेरिया बरियारपुर अंचल के बसही में बूढ़ी गंडक नदी का तटबन्ध टूटने की खबर पूरी तरह से गलत है, बसही बांध पूर्णतः सुरक्षित है। जिला प्रशासन एवं बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल रोसड़ा के इंजीनियर की टीम संपूर्ण तटबंध की सुरक्षा में पूरी मुस्तैदी के साथ लगी हुई है। किसी भी जगह पर रिसाव की सूचना पर तुरंत ही वहां पर बचाव कार्य कराया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/विभाकर-hindusthansamachar.in