बिहार में एक दिन में  पहली बार मिले 1820 कोरोना के मरीज
बिहार में एक दिन में पहली बार मिले 1820 कोरोना के मरीज
बिहार

बिहार में एक दिन में पहली बार मिले 1820 कोरोना के मरीज

news

बिहार में फिर हुआ कोरोना का बड़ा विस्फोट कोरोना संक्रमित मरीजों आंकड़ा पहुंचा 33,511 राजधानी पटना बना महामारी का एपिक सेंटर, 24 घंटे में मिले 561 नए संक्रमित मरीज पटना, 24 जुलाई (हि.स.) । बिहार में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते फैलाव को लॉकडाउन से नियंत्रित करना अब मुश्किल होता जा रहा है। एक तरफ पिछले पांच महीने राज्य में जारी लॉकडाउन के कारण लोग भुखमरी का शिकार हो रहे हैं तो दूसरी तरफ तेजी से फैलता संक्रमण लोगों को सांस लेने नहीं दे रहा है। बिहार में शुक्रवार को कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे बड़ा विस्फोट हुआ है। राज्य में एक साथ कुल 1820 नए कोरोना मरीज मिले हैं। इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 33,511 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को भी दो दिनों की रिपोर्ट एक साथ जारी की है। दोनों दिन के आंकड़ों को मिलाकर देखें तो स्पष्ट है कि राजधनी पटना फिलहाल बिहार का एपिक सेंटर बना हुआ है। 22 जुलाई के लंबित 296 और 23 जुलाई को पटना से मिले कुल 265 नए संक्रमित मामलों के मिलने के बाद शुक्रवार को राजधानी में रिकॉर्ड एकमुश्त 561 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। विगत 22 जुलाई को राज्यभर से कुल 1083 मामले सामने आए थे जबकि 23 जुलाई को भी 737 मामलों की पुष्टि हुई। राजधानी पटना में भी शुक्रवार को एक साथ कोरोना संक्रमण के कुल 561 मामले सामने आए हैं जो अबतक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 22 जुलाई को जारी आंकड़े के मुताबिक बिहार के 38 में से 35 जिलों से संक्रमण के मामले सामने आए थे। आंकड़ों की मानें तो सबसे अधिक 296 मामले राजधानी पटना से सामने आए हैं। सारण में भी 120 मामले सामने आए हैं। बेगूसराय में 65, भोजपुर में 30, गया में 96 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 23 जुलाई के आंकड़ों पर नजर डालें तो राजधानी पटना में 265 मामले सामने आए हैं, मुजफ्फरपुर में 88, पूर्वी चंपारण में 55, भागलपुर में 56 जबकि रोहतास में 30 नए मामले सामने आए हैं । स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 24 घंटे पर एक बार दिए जाने वाले राज्यवार अपडेट की बात करें तो विगत 24 घंटे में 10,120 सैंपल की जांच हुई है। वहीं, बिहार में अबतक कुल संक्रमित मरीजों में से 20,959 मरीज पूरी तरीके से स्वस्थ हो चुके हैं। फिलहाल सूबे में 11,000 से अधिक संक्रमण के मामले सक्रिय हैं। बिहार में कोरोना मरीजों का रिकवरी प्रतिशत लगातार गिरता जा रहा है। फिलहाल यह प्रतिशत है 66.1 4 पर है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन /विभाकर-hindusthansamachar.in