बिहार में आई कोरोना की सुनामी, 2803 नये मरीज मिले

बिहार में आई कोरोना की सुनामी,  2803 नये मरीज मिले
बिहार में आई कोरोना की सुनामी, 2803 नये मरीज मिले

राजधानी पटना कोरोना के हॉटस्पॉट में हो रहा तब्दील पिछले 24 घंटे में 17 मरीजों ने तोड़ा दम पटना, 25 जुलाई (हि.स.) । बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण अब सुनामी का रूप लेने लगा है। शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी दो दिनों की रिपोर्ट के अनुसार राज्य में एक साथ 2,803 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इनमें 24 जुलाई को 1021 तो 23 जुलाई को 1782 कोरोना संक्रमित मरीज शामिल हैं। सबसे बुरा हाल तो राजधानी पटना का है। पटना बिहार में कोरोना का हॉटस्पॉट बन चुका है। राजधानी पटना में शनिवार को एक साथ कुल 544 कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही सूबे में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 36,316 हो चुकी है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार इनमें 22,832 स्वस्थ हो चुके हैं जबकि 235 संक्रमितों की अबतक मौत हो चुकी है। इनमें शनिवार को पटना की एक युवती का मौत हो गयी। 23 जुलाई की बात करें तो स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक सबसे ज्यादा जिन जिलों में मामले सामने आए हैं, उसमें राजधानी पटना में 228, रोहतास में 149, वैशाली में 109, कटिहार में 175 और भोजपुर में 101 मामले सामने आए हैं। बिहार के सभी 38 जिलों में से 37 में संक्रमण की पुष्टि 23 जुलाई को हुई है । 24 जुलाई को जारी किए गए आंकड़े के मुताबिक राज्य में 1021 पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है। जिन जिलों में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आए हैं, उनमें राजधानी पटना में 316 और भागलपुर में 103 मामले की पुष्टि हुई है जबकि 24 जुलाई को बिहार के 38 जिले में से 35 संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं। 24 घंटे के दौरान तीन डॉक्टरों समेत 17 की मौत कोरोना के कारण 24 घंटे में तीन डॉक्टरों समेत कुल 17 लोगों की मौत हुई है। इनमें से 14 की मौत पटना एम्स में और एक रेलकर्मी की मौत दानापुर रेलवे हॉस्पिटल में हुई। शनिवार को कोरोना अस्पताल एनएमसीएच में पटना की 20 साल की एक लड़की की मौत हो गई। गया के अंचल अधिकारी दिलीप कुमार की भी मौत पटना एम्स में बीती रात हो गयी। 24 घंटे के दौरान कोरोना से मरने वालों में पटना के छह, नालंदा के तीन, मुजफ्फरपुर के दो और रोहतास, भोजपुर सुपौल, वैशाली व गया के एक-एक मरीज शामिल थे। पटना एम्स में पीएमसीएच के कैंसर रोग के सेवानिवृत्त विभागाध्यक्ष डॉ. मिथिलेश कुमार और सुपौल के डॉ. महेंद्र चौधरी की भी मौत हो गई है। शुक्रवार को मिले थे 1,820 संक्रमित मरीज इसके पहले शुक्रवार को राज्य में कुल 1820 मरीज मिले थे। इनमें 22 जुलाई को मिले 1,083 तथा 23 जुलाई को मिले 737 मरीज शामिल हैं। अकेले पटना जिले से 561 संक्रमित मिले हैं। पटना में अब कुल पॉजिटिव केस 5,347 हो गए हैं। इनमें अबतक 3,442 ठीक भी हुए हैं। शुक्रवार को सर्वाधिक रही रिकवरी दर शुक्रवार को पहली बार 24 घंटे में 1,873 संक्रमित मरीज स्वास्थ्य हुए हैं। यह ठीक होने वालों की अबतक की सबसे बड़ी संख्या है। इसके साथ रिकवरी दर में दो फीसद की वृद्धि दर्ज की गई। गुरुवार को प्रदेश में रिकवरी दर 66.11 थी, जो अब बढ़कर 68.13 हो गई है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन /विभाकर-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.