बिहार पुत्र राष्ट्रकवि दिनकर की कविताओं में झलकता है राष्ट्रप्रेमः विनोद नारायण झा
बिहार पुत्र राष्ट्रकवि दिनकर की कविताओं में झलकता है राष्ट्रप्रेमः विनोद नारायण झा
बिहार

बिहार पुत्र राष्ट्रकवि दिनकर की कविताओं में झलकता है राष्ट्रप्रेमः विनोद नारायण झा

news

भारतीय जनता पार्टी के कैलाशपति मीडिया सेंटर में काव्य पाठ का आयोजन पटना 22 सितंबर (हि.स.)। राष्ट्रकवि रामाधारी सिंह दिनकर की जयंती की पूर्व संध्या पर मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के कैलाशपति मीडिया सेंटर में काव्य पाठ का आयोजन किया गया। इसका उद्घाटन मुख्य अतिथि बिहार सरकार के मंत्री विनोद नारायण झा ने किया। इस अवसर पर मंत्री झा ने राष्ट्रकवि रामाधारी सिंह दिनकर को याद करते हुए कहा कि वो बिहार पुत्र थे, लेकिन पूरे राष्ट्र के गौरव थे। उनकी कविता में जीवन के सभी रंगों के सार हैं। दिनकर जी वीर रस के साथ ही नव रस के भी कवि थे। वे राष्ट्रवाद से ओतप्रोत थे और पूरी जिंदगी समाज के उत्थान एवं संस्कृति के विकास पर केन्द्रित करते हुए कविताओं की रचना की। उनकी सभी कविताओं में राष्टप्रेम झलकता है। मैं धन्यवाद देता हूं आप साथियों का जिन्होने इस कार्यक्रम का आयोजन किया है, विशेष कर मीडिया सेल का जिनके माध्यम से आज दिनकर जी को पुनः याद करने का मौका मिला। इस अवसर पर रामधारी सिंह दिनकर के पौत्र श्री अरविंद दिनकर की विशेष उपस्थिति रही जिन्होंने दिनकर की कविताओं का पाठ किया। इससे पहले मां सरस्वती की वंदना के उपरांत कार्यक्रम में स्वागत भाषण प्रदेश कार्यसमीति सदस्य विनोद शर्मा ने दिया। कार्यक्रम का संयोजन कर रहे डॉ. विनोद शर्मा और राजेश झा राजू ने कवियों और अतिथियों को बुके और अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया। इस मौके पर कवि पद्मश्री डॉ. शांती जैन, अराधना प्रसाद, डॉ. शालीनी पांडे, भगवती प्रसाद द्विवेदी, अरविंद दिनकर, सरोज तिवारी, विजय व्रत कंठ, अभिलाषा और शिल्पा मिश्रा की उपस्थिति रही। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/विभाकर-hindusthansamachar.in