बाढ़ पीड़ितों की सुध लेने नहीं, जमीन लेने दरभंगा गए थे तेजस्वी
बाढ़ पीड़ितों की सुध लेने नहीं, जमीन लेने दरभंगा गए थे तेजस्वी
बिहार

बाढ़ पीड़ितों की सुध लेने नहीं, जमीन लेने दरभंगा गए थे तेजस्वी

news

जदयू सांसद ललन सिंह ने तेजस्वी यादव पर लगाया बड़ा आरोप पटना, 24 जुलाई (हि.स.) । बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। राजनीतिक बयानबाजी अपने चरम पर आ चुकी है। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) विधायक व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव बिहार सरकार को कोरोना के बहाने कटघरे में खड़ा कर रहे हैं। इस बीच, शुक्रवार को जनता दल युनाइटेड (जदयू) के वरिष्ठ नेता राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने तेजस्वी यादव समेत लालू परिवार पर बड़ा आरोप लगाया है। ललन सिंह ने तेजस्वी पर आरोप लगाया है कि वे राजद के जिला कार्यालय के लिए जमीन का इंतजाम करने दरभंगा गए थे। सांसद ललन सिंह ने शुक्रवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि लालू परिवार जमीन के धंधे में लगा है। नौकरी के नाम पर जमीन लिखवाना, टिकट के बदले जमीन लेना यह लालू परिवार की पुरानी परंपरा रही है। लोकसभा चुनाव के समय में राजद ने यही किया था। सांसद ने कहा कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद अगर गरीबों के मसीहा हैं तो बताएं कि उन्होंने अपने 15 साल के कार्यकाल में जनता के लिए क्या किया? ललन सिंह ने कहा कि बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी का अस्तित्व खत्म हो जाएगा। मुंगेर लोकसभा सीट से सांसद ललन इतने में ही नहीं रुके, उन्होंने तेजस्वी यादव पर भी आरोपों की बौछार कर दी। कहा कि तेजस्वी यादव बाढ़ पीड़ितों की सुध लेने दरभंगा नहीं गए थे। वे वहां अपनी जमीन की बाउंड्री बनवा रहे थे। ललन ने एक वायरल तस्वीर का हवाला देते हुए कहा कि तेजस्वी बताएं कि बद्री पूर्वे और अमित कुमार से उनका क्या रिश्ता है? तेजस्वी यादव बद्री पूर्वे से कौन सा कागज ले रहे हैं? ललन ने कहा कि लालू प्रसाद और तेजस्वी ने कभी बिहार की जनता की चिंता नहीं की। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के दरभंगा दौरे को जेडीयू सांसद ने निजी दौरा बताया है। ललन सिंह ने आरोप लगाया है कि पिछले लोकसभा चुनाव में वीआईपी पार्टी के उम्मीदवार बद्री पूर्वे से तेजस्वी यादव ने उनकी जमीन ले ली। चुनावी टिकट के बदले जमीन लेने का खेल लालू परिवार अरसे से करता आया है और तेजस्वी यादव भी फिलहाल यही गोरखधंधा कर रहे हैं। ललन सिंह ने खुलासा करते हुए कहा है कि लहेरियासराय के रहने वाले अमित कुमार ने दरभंगा की अपनी जमीन राजद के नाम मुफ्त लिख दी। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन /विभाकर-hindusthansamachar.in