बारहवीं कक्षा में नामांकन के लिए कॉलेज वसूल रहे हैं 22 सौ रुपए
बारहवीं कक्षा में नामांकन के लिए कॉलेज वसूल रहे हैं 22 सौ रुपए
बिहार

बारहवीं कक्षा में नामांकन के लिए कॉलेज वसूल रहे हैं 22 सौ रुपए

news

बेगूसराय, 31 जुलाई (हि.स.)। कोरोना काल में विभागीय गाइड लाइन के विपरित बारहवीं कक्षा में नामांकन के नाम पर महंथ भरतदास इंटर कॉलेज रामपुर के छात्रों के शिकायत पर शुक्रवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद बखरी इकाई के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज पहुंच नामांकन काउंटर को बंद करवाकर विरोध प्रकट किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने कॉलेज प्रबंधक का घेराव कर छात्र हित में विभिन्न प्रकार के शैक्षणिक शुल्क माफ करने की मांग की। मौके पर मौजूद प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रिंस सिंह परमार ने कहा कि कोरोना काल में शिक्षा विभाग के आदेश पर प्रदेश के सभी स्कूल कॉलेज पूर्णतः बंद हैं। फिर विभाग के आदेश की अवहेलना कर नामांकन करना कोरोना संक्रमण को दावत देता है। नगर मंत्री मनीष कुमार एवं यूआर कॉलेज रोसड़ा छात्रसंघ के संयुक्त सचिव अनुभव आनंद ने कहा की आगामी चार अगस्त से 11वीं कक्षा में नामांकन के लिए विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र का वितरण होना है। इसके लिए छात्रों के बीच सोशल डिस्टेंस का पालन करवाने का अनुरोध कॉलेज प्रबंधन से किया गया है। इसके बाद नामांकन लेने से अफरा तफरी की स्थिति को देख प्रो. रामचंद्र सिंह के आदेश पर नामांकन काउंटर को तत्काल बंद करवा दिया गया है। प्रभारी प्राचार्य ने कहा है कि आज शुक्रवार से नामांकन प्रक्रिया अगले विभागीय आदेश तक बंद कर दिया गया है। मौके पर मौजूद कई छात्रों ने बताया कि 12 वीं कक्षा में नामांकन के लिए कॉलेेज प्रबंधन 22 सौ रुपया वसूल रही है। जिसमें 50 रुपया री-एडमिशन फीस तथा 2150 रुपया मिसलेनियस फीस के नाम पर जबरन वसूली किया जा रहा है। विरोध करने पर सुनने के लिए कोई तैयार नहीं है। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा-hindusthansamachar.in