पीडीपी से पप्पू यादव होंगे मुख्यमंत्री के प्रत्याशी
पीडीपी से पप्पू यादव होंगे मुख्यमंत्री के प्रत्याशी
बिहार

पीडीपी से पप्पू यादव होंगे मुख्यमंत्री के प्रत्याशी

news

पीडीपी में शामिल घटक दलों ने किया नाम का प्रस्ताव पप्पू यादव ने कहा, मुस्कुराता बिहार उनकी प्राथमिकता पटना, 14 अक्टूबर (हि.स.) । जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन (पीडीए) के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार होंगे। यह घोषणा पीडीए में शामिल एसडीपीआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष एम के फैजी, आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद और अन्य घटक दलों के नेताओं ने एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में की। इस अवसर पर चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि पप्पू यादव के नेतृत्व में पीडीए बिहार में परिवर्तन की शुरुआत कर रहा है। उन्होंने कहा कि इनके मुख्यमंत्री बनने से बिहार में दलितों-मुसलमानों और अन्य कमजोर वर्गों के लोगों को सुरक्षा मिलेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि बिहार में कमजोर वर्ग असुरक्षा में जी रहा है। जाप अध्यक्ष और सीएम के लिए नामित पप्पू यादव ने पीडीए का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सुरक्षित और मुस्कुराता बिहार उनकी प्राथमिकता होगी। उन्होंने इसके लिए पीडीए को समर्थन देने की अपील की। उन्होंने कहा कि मां-बहन-बेटी को सुरक्षा देना पीडीए के प्रतिज्ञा पत्र में पहले स्थान पर है। हर जरूरी जगह पर सीसीटीव कैमरा लगये जाएंगे। पीडीए जातीय और साम्प्रदायिक दंगों को किसी हाल में बर्दाश्त नहीं करेगा। पप्पू यादव ने वादा किया है कि उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद अगर बिहार से पलायन नहीं रुका तो वे इस्तीफा दे देंगे। उन्होंने बिहार में बेहतरीन अस्पताल और स्कूल बनवाने का भी वादा किया। उन्होंने कहा कि फूड प्रोसेसिंग, शाहाबाद के धान, सीमांचल-मिथिला के माछ-मखान और मगध के पान से बिहार की जिंदगी बदल सकते हैं। साथ ही उन्होंने केला-लीची और जूट-गन्ना की खेती और इसपर आधारित उद्योग को बढ़ावा देने की बात भी कही। जाप अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि पिछले 30 सालों में ‘दोनों भाइयों‘ ने बिहार के किसानों की जिंदगी बर्बाद कर दी। बाजार समिति खत्म कर दी गयी। उन्होंने कहा कि यदि सरकार बनी तो इसे बहाल किया जाएगा और हर अनुमंडल में कोल्ड स्टोरेज खोला जाएगा। उन्होंने बिहार में प्रति व्यक्ति कम आय के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराया। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन /विभाकर-hindusthansamachar.in