पंचायती राज मंत्री कपिल कामत के निधन से मधुबनी में शोक की लहर
पंचायती राज मंत्री कपिल कामत के निधन से मधुबनी में शोक की लहर
बिहार

पंचायती राज मंत्री कपिल कामत के निधन से मधुबनी में शोक की लहर

news

मधुबनी,16अक्टूबर, (हि.स.)। मधुबनी जिले के लदनियां प्रखंड के निवासी पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत का गुरुवार की देर रात पटना एम्स में निधन हो गया है।अंतिम संस्कार के लिए शुक्रवार को पार्थिव शरीर पैत्रिक गांव मोरताजो लाया जा रह है।मंत्री कुछ दिनोंं से कोरोना संक्रमित थे जिससे उनका निधन हो गया । उनके निधन से क्षेत्र में शोक की लहर है। सूबे के पंचायती राज मंत्री कपिलदेव कामत 70 वर्ष के थे। किडनी रोग से ग्रसित मंत्री कामत कोरोना संक्रमित हो गए थे। सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें एम्स में भर्ती किया गया था। उनके निधन से क्षेत्र में शोक की लहर है। मूलरूप से मधुबनी जिले के लदनियां प्रखंड के मोतनाजे गांव में 11 मई 1951 को जन्मे कपिलदेव कामत जदयू के कद्दावर नेता माने जाते थे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी नेताओं में कपिलदेव कामत का नाम शामिल था। वर्तमान में वे बाबूबरही विधानसभा से जदयू से विधायक थे। बीमार रहने के कारण इस बार पार्टी ने उनकी जगह उनकी बहू मीना कामत को बाबूबरही से उम्मीदवार बनाया है। उनका राजनीतिक जीवन 1977 में शुरू हुआ। 1979 में राजनीतिक कारणों से उन्होंने बीस दिन भागलपुर जेल में बिताया। 1980 से 85 तक वे मधुबनी के लदनियां प्रखंड के बीससूत्री सदस्य रह चुके हैं। 2001 में वे लदनियां प्रखंड से पंचायत समिति सदस्य भी चुने गए। 2015 के विधानसभा चुनाव में जदयू पार्टी से विधायक चुने जाने के बाद उन्हें राज्य में पंचायती राज मंत्री बनाया गया। उनके निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा शोक जताया है। जानकारी के अनुसार, उनके पार्थिेव शरीर को उनके पैतृक गांव मोतनाजे लाया जा रहा है जहां अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनके निधन की खबर सुनते ही जदयू कार्यकर्ताओं में शोक की लहर फैल गई है। शोक संवेदना प्रकट करने वालों में राम बहादुर चौधरी, डा संजीव कुमार झा, उपेन्द्र मंडल, बद्री बाबा, अनुराग मिश्र,ललन मंडल , कृष्ण कान्त मंडल, मो. अली अकबर, नुनु झा, सुशील कुमार राय, सद्दाव आजम आदि प्रमुख हैं । हिन्दुस्थान समाचार/लम्बोदर /विभाकर-hindusthansamachar.in