नेपाल में आये भूकम्प से हिला बिहार
नेपाल में आये भूकम्प से हिला बिहार
बिहार

नेपाल में आये भूकम्प से हिला बिहार

news

रिक्टर स्केल पर 5.3 आंकी गई भूकंप की तीव्रता नेपाल की राजधानी काठमांडू के समीप सिन्धुपाल चौक था भूकम्प का केंद्र पटना, 16 सितम्बर (हि.स.) । पटना सहित राज्य के अधिकांश जिलों में बुधवार की सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए । भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.3 बताई जा रही है। इसका मुख्य केंद्र नेपाल की राजधानी काठमांडू के पास सिंधुपाल चौक बताया गया है। भूकंप के बाद काठमांडू में अफरा-तफरी मच गई और लोग घरों से बाहर निकल आए। भूकंप के कारण बिहार में भी लोग घबरा गए। हालांकि, कहीं से जान-माल की किसी क्षति की सूचना नहीं है। जानकारी के अनुसार नेपाल की राजधानी काठमांडू में रिक्टर स्केल पर छह की तीव्रता वाला जोरदार भूकंप आया। इसका असर नेपाल के सीमावर्ती बिहार के भू-भाग पर भी पड़ा। बिहार के पूर्वी व पश्चिम चंपारण, सारण, सीवान, गोपालगंज, सीतामढ़ी, शिवहर, समस्तीपुर, सुपौल, सहरसा, मधेपुरा, दरभंगा, मुजफ्फरपुर व पटना आदि कई जिलों में इसके झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप के कारण पटना सहित बिहार के प्रभावित जिलों में लोग सुबह-सुबह घरों से बाहर निकल गए। हालांकि, अल सुबह में भूकंप आने के कारण बड़ी आबादी को सोए होने के कारण यह महसूस भी नहीं हो सका। उधर, नेपाल में इस भूकंप से दहशत का माहौल कायम हो गया। वहां भी लोग घरों से निकलकर सड़कों पर आ गए । हालांकि, नेपाल में भी जान-माल की क्षति की कोई सूचना नहीं मिली है। याद आ गया साल 2015 का भूकंप विदित हो कि इससे पहले नेपाल में वर्ष 2015 में जबरदस्त भूकंप आया था, जिसमें करीब नौ हजार लोगों की जान चली गयी थी। रिक्टर स्केल पर 9.3 तीव्रता वाले उस भूकंप का केंद्र काठमांडू के नजदीक पोखरा था। उसके बाद रह-रहकर कई दिन तक छोटे-बड़े भूकंप आते रहे थे। उसका असर बिहार पर भी पड़ा था। आज के भूकंप ने लोगों को उस भूकंप की भी याद दिला दी। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन/विभाकर-hindusthansamachar.in