नीतीश कुमार का ज्ञान उतना, जितना उनके अधिकारी उन्हें देते हैं : तेजस्वी
नीतीश कुमार का ज्ञान उतना, जितना उनके अधिकारी उन्हें देते हैं : तेजस्वी
बिहार

नीतीश कुमार का ज्ञान उतना, जितना उनके अधिकारी उन्हें देते हैं : तेजस्वी

news

नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री की वर्चुअल रैली पर किया पलटवार कहा, राक्षसराज में जंगलराज की बात बेमानी पटना, 07 सितम्बर (हि.स.) । नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के वर्चुअल रैली के बाद पलटवार किया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि वह मुझे कहते हैं कि ज्ञान नहीं है लेकिन खुद विधानसभा में बोले थे कि मास्क नहीं पहनना है। फिर बाद में बोले कि हमने तो स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट पढ़ ली । नीतीश कुमार का ज्ञान महज उतना ही है जितना उनके अधिकारी उन्हें बताते हैं। तेजस्वी ने नीतीश कुमार के सुशासन की सरकार पर भी सवाल उठाये हैं। तेजस्वी ने कहा कि राक्षसराज में वह जंगलराज की बात करते हैं। आज की बात वह नहीं करते हैं। नीतीश को केवल 15 साल पुरानी बातें ही याद हैं। तेजस्वी ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार से हमने दो सवाल पूछे थे, लेकिन जिन सवालों का जवाब उनसे बिहार की जनता मांगना चाहती है, उन सवालों का जवाब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नहीं देते हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जब वर्चुअल रैली संबोधित कर रहे थे तो उनके चेहरे पर परेशानी और झल्लाहट साफ नजर आ रही थी। विगत 1 मार्च की रैली की तरह आज की रैली भी सुपर-डुपर फ्लॉप रही है। नीतीश कुमार को बिहार की जनता ने नकार दिया है। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार का जितना राजनीतिक अनुभव है, मेरी उम्र उतनी भी नहीं है। फिर भी नीतीश कुमार ने मेरे सवालों का जवाब नहीं दिया। मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि जहां चाहे वहां मुझसे बहस कर लें। विधानसभा में भी कोरोना पर मेरे सवालों का जवाब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नहीं दिया। राज्य में छह महीने बाद भी बेहतर तरीके से आरटी-पीसीआर जांच नहीं हो रही है। एंटीजन टेस्ट के फर्जी आंकड़ों के साथ लोगों को गुमराह किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सोमवार के संबोधन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह नहीं बताया कि संकटकाल में देश-विदेश में फंसे लोगों को बिहार आने से उन्होंने मना किया था। चिट्ठी निकाली गई कि प्रवासी बिहारी गुंडे हैं। इनसे राज्य की विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो सकती है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव रंजन /विभाकर-hindusthansamachar.in