नवादा के कन्हाई कालेज में नामांकन घोटाले का भंडाफोड़ , कार्रवाई की मांग
नवादा के कन्हाई कालेज में नामांकन घोटाले का भंडाफोड़ , कार्रवाई की मांग
बिहार

नवादा के कन्हाई कालेज में नामांकन घोटाले का भंडाफोड़ , कार्रवाई की मांग

news

नवादा 13 दिसम्बर (हि स)। नवादा के कन्हाई लाल साहू कॉलेज में प्राचार्य व कर्मचारियों ने अपने रिश्तेदारों तथा खिलाड़ियों के नाम पर गलत तरीके से दूसरे लोगों का नामांकन कर कोटे के नियमों की धज्जियां उड़ाई है ।जिसके विरुद्ध छात्र संघ के अध्यक्ष कुंदन राय , सचिव राजा यादव ने हंगामा करते हुए डीएम नवादा,सदर एसडीओ नवादा से जांच की मांग की ।कुंदन राय ने कहा है कि दूसरे जाति का छात्र - छात्रा स्टाफ का भतीजा और भतीजी कैसे हो सकता है! जब इसका प्रमाण दिया तो एसडीओ ने जांच का आदेश देने की बात कही। स्टाफ के लिये वार्ड कोर्ट होता है!उसमें नियमानुसार सिर्फ पुत्र ,पुत्री या पत्नी का ही नामंकन लिया जा सकता है। लेकिन यहां पांडेय परिवार का सदस्य अतिपिछड़ा कैसे हो जाता है? और ओबीसी का परिवार दलित कैसे हो सकता है! बिना खिलाड़ी के प्रमाण पत्र के उसे खिलाड़ी कैसे बना दिया गया। जब खेल असोसिएशन के सचिव से बात किया तो साफ इन लोगों को इनकार कर दिया । कहा कोई प्रमाण पत्र निर्गत नही किया गया है। उन्होंने माना कि सब फर्जी लोग हैं! और इन लोगों के पास सर्टिफिकेट भी नही है! श्री राय ने कहा कि ऐसे भ्रष्ट प्रचार्य के ऊपर पुलिस जांच कर प्राथमिकी दर्ज करे। कन्हाई लाल साहू महाविद्यालय छात्र संघ के सचिव राजा यादव ने कहा कि परिवार के कोटे में ब्राह्मण परिवार के कर्मचारी के कोटे में अति पिछड़ा ,अति पिछड़ा कर्मचारी का परिवार बता महादलित का नामांकन किया गया है । जो जांच से स्पष्ट हो जाएगा ।नवादा के डीएम यशपाल मीणा तथा सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती ने इस मामले की गंभीरता को देखते हुए छात्र संघ के अध्यक्ष व सचिव से शीघ्र जांच के लिए आवेदन देने को कहा है ।ताकि बड़े पैमाने पर 24 लोगों को किए गए गलत नामांकन की जांच कर प्राचार्य के विरुद्ध कार्रवाई की जा सके। प्राचार्य विनोद कुमार यादव से संबंध में संपर्क साधा गया तो उन्होंने फोन तक नहीं उठाया। कालेज के कर्मियों ने भी प्राचार्य द्वारा गलत तरीके से नामांकन की बात स्वीकारी है ।लेकिन उन्होंने अपने नाम नहीं छापने की बात की है ।अगर सही तरीके से जांच की गई तो निश्चित तौर पर कन्हाई लाल साहू कॉलेज के प्राचार्य विनोद कुमार के विरुद्ध नामांकन घोटाले की प्राथमिकी दर्ज होना निश्चित मानी जा रही है ।प्राचार्य के विरुद्ध छात्र संघ के अध्यक्ष और सचिव ने एक बड़ा आंदोलन की रणनीति तैयार की है ।दोनों नेताओं ने साफ तौर पर कहा है कि अगर सही तरीके से जांच कर निष्पक्ष कार्यवाही नहीं की गई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। जिसकी जिम्मेवारी जिला प्रशासन व प्राचार्य की होगी। स्नातक कला ,विज्ञान में बड़े पैमाने पर फर्जी नामांकन के आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की गई है। हिन्दुस्थान समाचार/डॉ सुमन-hindusthansamachar.in