तिरहुत शिक्षक निर्वाचन सीट से  डॉ.संजय कुमार सिंह तो स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से देवेश चन्द्र ठाकुर हुए निर्वाचित
तिरहुत शिक्षक निर्वाचन सीट से डॉ.संजय कुमार सिंह तो स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से देवेश चन्द्र ठाकुर हुए निर्वाचित
बिहार

तिरहुत शिक्षक निर्वाचन सीट से डॉ.संजय कुमार सिंह तो स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से देवेश चन्द्र ठाकुर हुए निर्वाचित

news

मुज़फ़्फ़रपुर,13 नवम्बर (हिं.सं.) तिरहुत शिक्षक निर्वाचन सीट पर सीपीआई समर्थित उम्मीदवार डॉ. संजय कुमार सिंह ने दोबारा कब्जा जमा लिया। जीत के लिए कुल 3114 मतों की जरूरत थी। डॉ. संजय कुमार सिंह को नौवीं बार में तीसरी वरीयता के मतों को मिलाकर कुल 3324 मत आए। एमआईटी भवन में विधान परिषद चुनाव के मतों की गिनती सुबह आठ बजे ही शुरू हुई, लेकिन परिणाम आने में रात साढ़े नौ बजे गए। तिरहुत शिक्षक निर्वाचन के लिए मैदान में कुल दस उम्मीदवार थे। 22 अक्टूबर को संपन्न चुनाव के दौरान कुल 6635 वोट पड़े थे, लेकिन गिनती के दौरान 6227 मत सही पाए गए। प्रथम वरीयता के मतों में भी डॉ. संजय सिंह को सर्वाधिक 2694 मत प्राप्त हुए जबकि निर्दलीय उम्मीदवार भूषण झा को 1705 और भाजपा समर्थित उम्मीदवार नरेंद्र सिंह को 1284 मत प्राप्त हुए। वहीं विजय कुमार को 110, विरेंद्र सिंह को 108, अभयनाथ सिंह को 107, शशि कुमारी सिंह को 97, राकेश कुमार को 54, अरुण कुमार सिंह को 46, व कृष्ण मुरारी मिश्र को 22 वोट प्राप्त हुए। प्रथम वरीयता के मतों से फैसला न हो पाने के बाद क्रमश: दूसरी व तीसरी वरीयता के मतों की गिनती की गई और अंतत: संजय कुमार सिंह के पक्ष में 3324 मत आए, जबकि इनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी निर्दलीय भूषण कुमार झा की झोली में 2015 वोट आए। शिक्षकों के हक की लड़ाई सदन में उठाकर मुकाम तक पहुंचाएंगे: संजय नवनिर्वाचित विधान पार्षद डॉ. संजय कुमार सिंह ने अपनी जीत के बाद कहा कि वे शिक्षकों के हक की लड़ाई लड़ते रहे हैं और इस कार्यकाल में इसे मुकाम तक पहुंचाएंगे। उन्होंने कहा कि वित्त रहित शिक्षकों की समस्या, नियोजित शिक्षकों को समान काम के लिए समान वेतन की लड़ाई, सातवें वेतन पुनरीक्षण के हिसाब से नियोजित शिक्षकों को लेबल सात व लेबल आठ का लाभ दिलाने, शिक्षकों की सेवा शर्त में बदलाव को रोकने, विवि शिक्षकों के कालबद्ध प्रोमोशन के अलावा मदरसा व संस्कृत शिक्षकों की समस्याएं उनकी प्राथमिकता में हैं। इसके अलावा नए बीएड व आईटीआई के शिक्षकों के हक की लड़ाई भी आगे छेड़ी जाएगी और सरकार को सदन में दिए आश्वासन को पूरा करने के लिए कहा जाएगा। वही तिरहुत स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से जदयू प्रत्याशी देवेश चंद्र ठाकुर ने जीत दर्ज किया देवेश चंद्र ठाकुर से पूछे जाने पर कहा कि लगातार मेरे द्वारा किए गए कार्यों का ही परिणाम है जो आज पुनः जीत हुई है कोशिश करेंगे कि जो भी कमी मेरे तरफ से कोई होगी या फिर जो भी समस्याएं होंगी उसे सरकार पूरा करेगी। हिन्दुस्थान समाचार / मनोज-hindusthansamachar.in