तड़प-तड़प कर हो गई कपड़ा व्यवसायी की मौत, कोरोना के डर से किसी ने नहीं की मदद

तड़प-तड़प कर हो गई कपड़ा व्यवसायी की मौत,  कोरोना के डर से किसी ने नहीं की मदद
तड़प-तड़प कर हो गई कपड़ा व्यवसायी की मौत, कोरोना के डर से किसी ने नहीं की मदद

बेगूसराय, 25 जुलाई (हि.स.)। कोरोना से मरने के बाद अब कोरोना की दहशत से भी मौत का सिलसिला शुरू हो गया है। शनिवार को बेगूसराय के बीहट में एक व्यवसायी की मौत इन्हीं परिस्थितियों के कारण हो गई। उसका नाम संजय सिंह है जो कपड़े का व्यवसाय करता था। इसकी जानकारी देते हुए समाजिक कार्यकर्ता रामकृष्ण ने बताया कि बीहट चांदनी चौक पर चंद्रशेखर सिंह द्वार के बगल में सदानंदपुर टोला निवासी संजय सिंह कपड़े की दुकान चलाता था। शनिवार की सुबह वह बीहट चांदनी चौक पर आया और इसी दौरान शौच के लिए सुलभ शौचालय गया। शौच के दौरान मिर्गी आ गयी तथा पूरा शरीर कांपने लगा। चौक पर सैकड़ों लोगों ने उसे जमीन पर कांपते और हाथ-पांव फेंकते देखा लेकिन कोरोना के डर से किसी ने उसे सहारा नहीं दिया और उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि कोरोना के खौफ से लोगों में बेचैनी है। बेगूसराय के निजी अस्पताल कोरोना के नाम पर किसी दूसरी बीमारी से गंभीर रूप से ग्रस्त व्यक्ति का इलाज नहीं कर रहे हैं। मरीज के परिजनों से कोरोना निगेटिव रहने का सर्टिफिकेट मांगा जाता है। प्रशासनिक आदेश के बाद भी निजी अस्पतालों ने कोरोना के इलाज केे लिए 25 प्रतिशत बेड आरक्षित नहींं किया है, लेकिन जिला प्रशासन मौन धारण किए हुए है। तीन दिन पहले भी बीहट निवासी राजद नेता प्रवीण पोद्दार की तबीयत देर रात अचानक बिगड़ गई, उन्हें हर्ट अटैक आया था। आनन-फानन में परिजन लेकर उन्हें नामचीन अस्पतालों में दौड़ते रहे, लेकिन किसी ने एडमिट नहीं किया। बाद में डीएमसीएच पहुंचते-पहुंचते उनकी मौत हो गई। मौत के बाद आसपास के इलाकों में अफवाह फैला दी गई है कि प्रवीण के संपर्क में आने वाले 40 से अधिक लोग संक्रमित हो गए हैं।इससे लोगों में भय का माहौल कायम हो गया। हालांकि दो लोगों की संदिग्ध मौत के बाद पूरे बीहट बाजार को शनिवार को सील कर दिया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/विभाकर-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.