डीएम ने दस असामाजिक तत्वों को किया थाना बदर
डीएम ने दस असामाजिक तत्वों को किया थाना बदर
बिहार

डीएम ने दस असामाजिक तत्वों को किया थाना बदर

news

सहरसा,16 अक्टूबर(हि.स.)। बिहार विधानसभा चुनाव के अवसर पर निर्वाचन प्रक्रिया एवं मतदान को स्वच्छ, निष्पक्ष ,भयमुक्त एवं शांतिपूर्ण रूप से संपन्न कराने के उद्देश्य से बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम 1981 के अंतर्गत आपराधिक पृष्ठभूमि एवं विगत निर्वाचनों में मतदाताओं को भयभीत कर निर्वाचन प्रभावित करने वाले दस असामाजिक तत्वों को जिला दंडाधिकारी सह जिलाधिकारी कौशल कुमार ने शुक्रवार को थाना बदर का आदेश दिया है। आदेश में जिलाधिकारी ने कहा है कि बिहार विधानसभा चुनाव में इनकी संभावित दबंगता एवं आपराधिक गतिविधियों से स्वच्छ, निष्पक्ष व भयमुक्त वातावरण में निर्वाचन प्रक्रिया संपन्न कराने में व्यवधान आ सकता है और विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो सकती है। पुलिस अधीक्षक की अनुशंसा पर जिला दंडाधिकारी ने बी.सी.सी.ए. वाद में अपने न्यायालय में प्रतिवादियों एवं राज्य की ओर से अपर लोक अभियोजक से सुनवाई कर थाना बदर का आदेश पारित किया है। आदेश में उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव की सम्पूर्ण प्रक्रिया पूरी होने तक प्रशासनिक एवं जनहित में थाना बदर किये गये संबंधित थाना में सदेह उपस्थित होकर प्रत्येक दिन 9ः00 बजे पूर्वाह्न से 11ः00 पूर्वाह्न तक एवं 5ः00 बजे अपराह्न से 8ः00 बजे अपराह्न तक अपनी उपस्थिति दर्ज कराने को कहा है।। संबंधित थाना प्रभारी को आदेश दिया गया कि उनके थाना में तड़ीपार किये गये असामाजिक तत्व का प्रतिदिन पंजी में उपस्थिति दर्ज करें और पुलिस अधीक्षक को साप्ताहिक प्रतिवेदन देंं । थाना बदर की अवधि 10.11.2020 तक है। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/विभाकर-hindusthansamachar.in