गया में शक्तिपीठ मंगलागौरी मंदिर की  17 योजनाओं का शिलान्यास
गया में शक्तिपीठ मंगलागौरी मंदिर की 17 योजनाओं का शिलान्यास
बिहार

गया में शक्तिपीठ मंगलागौरी मंदिर की 17 योजनाओं का शिलान्यास

news

गया, 10 सितंबर (हि.स.)। देश का प्रसिद्ध शक्तिपीठ मां मंगलागौरी मंदिर के विकास के लिए भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व विधान पार्षद कृष्ण कुमार ने यहाँ 17 योजनाओं का गुरुवार को शिलान्यास किया । इस मौके पर मां मंगलागौरी प्रबंधकारिणी समिति के सभी सदस्य सहित शहर के कई गणमान्य लोग उपस्थित थे। योजनाओं का शिलान्यास पूरे धार्मिक मंत्रोच्चार के साथ फीता काटकर किया गया। इस मौके पर पूर्व विधान पार्षद कृष्ण कुमार सिंह ने कहा कि आने वाले समय में यहाँ प्रसिद्ध शक्तिपीठ मां मंगलागौरी का स्वरुप बदला-बदला नजर आएगा। उन्होंने बताया कि विधान पार्षद कोटे से ढाई करोड़ रुपए की राशि से मंदिर व इसके आसपास के क्षेत्र का विकास किया जाएगा। गया में आदि काल से ही सनातन धर्मावलंबियों की पूजा-पाठ की परंपरा चली आ रही है। इसका स्पष्ट उदाहरण यहां के मंदिर हैं। जो मूर्तिकाल से पहले चिह्न काल से ही स्थापित हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर क्षेत्र के विकास के लिए और भी जो जरुरत होगी वह पूरी की जाएगी। मां मंगलागौरी प्रबंधकारिणी समिति के अध्यक्ष शंकर यादव ने कहा कि 17 योजनाओं पर खर्च होने वाली राशि से पार्किंग, पेयजल, बिजली,पहुंच पथ, शौचालय सहित अन्य कई चीजों का निर्माण किया जाएगा ताकि यहां पूजापाठ करने वाले आने वाले श्रद्धालुओं को सभी तरह की सुविधा मिले। उन्होंने कहा कि प्रबंधन कमेटी का प्रयास होगा कि मां वैष्णो देवी, मां विंध्यवासिनी, मां कामाख्या देवी जैसे देश के अन्य मंदिरों में जो सुविधाएं भक्तों को मिलती हैं उसी तर्ज पर मां मंगलागौरी मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को भी अत्याधुनिक सुविधाएं मिलें । इन तमाम योजनाओं पर खर्च होने वाली राशि अगर बच जाती है, तो उसे भी मंदिर के विकास के लिए लगाया जाएगा। हिंदुस्थान समाचार/ पंकज कुमार/विभाकर-hindusthansamachar.in