गया में गुटों में बंटी कांग्रेस को एकजुट करने में सफल हो पाएंगे अखिलेश सिंह
गया में गुटों में बंटी कांग्रेस को एकजुट करने में सफल हो पाएंगे अखिलेश सिंह
बिहार

गया में गुटों में बंटी कांग्रेस को एकजुट करने में सफल हो पाएंगे अखिलेश सिंह

news

गया, 07 सितंबर (हि.स.)। मगध प्रमंडल में कई नेताओं की आपसी खेमेबाजी से कांग्रेस पार्टी को काफी नुकसान हुआ है। बिहार में कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष राज्यसभा सदस्य पूर्व केंद्रीय मंत्री डा. अखिलेश प्रसाद सिंह मंगलवार को जिला कांग्रेस मुख्यालय राजेंद्र आश्रम में विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर स्थिति की जानकारी लेंगे। कांग्रेस महागठबंधन में शामिल हैं। कांग्रेस प्रत्याशी अवधेश कुमार सिंह वजीरगंज से विधायक हैं। गया शहर से पिछले चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी दूसरे पायदान पर थे। गया जिले में गुरुआ और शेरघाटी विधानसभा चुनाव क्षेत्र के साथ-साथ एक रिज़र्व सीट से कांग्रेस के नेता प्रत्याशी देने की मांग आलाकमान से कर रहे हैं। पूर्व मंत्री सह वजीरगंज विधायक अवधेश कुमार सिंह जिले के कद्दावर पार्टी नेता हैं।प्रदेश अध्यक्ष के दावेदार रहे अवधेश सिंह गया शहरी विधानसभा चुनाव क्षेत्र से अपने किसी खास समर्थक को पार्टी प्रत्याशी बनाने के लिए प्रयासरत हैं। विधायक सिंह के कट्टर समर्थकों के बीच इन दिनों कांग्रेस के कार्यकर्ता के अलावा गया के एक दबंग राजनेता मगध सम्राट के रूप में चर्चित "मंत्री जी" के करीबी व्यवसायी के नाम की चर्चा जोरों पर है। गया में कांग्रेस का अपना जनाधार रहा है। अखिलेश सिंह के लिए गुटों में बंटे कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं को एकजुट रखने की अहम जिम्मेवारी है। वे अपनी जिम्मेदारी निभाने में कहां तक सफल हो पाएंगे, यह देखना बाकि है लेकिन सांसद के गया कार्यक्रम को लेकर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं में उत्साह व्याप्त है। हिंदुस्थान समाचार/ पंकज कुमार/विभाकर-hindusthansamachar.in