खगड़िया में नियोजित शिक्षकों ने नई सेवा शर्त की प्रतियां जलाकर जताया विरोध
खगड़िया में नियोजित शिक्षकों ने नई सेवा शर्त की प्रतियां जलाकर जताया विरोध
बिहार

खगड़िया में नियोजित शिक्षकों ने नई सेवा शर्त की प्रतियां जलाकर जताया विरोध

news

खगड़िया, 20 अगस्त (हि.स.)। मुख्यमंत्री द्वारा नियोजित शिक्षकों की नयी सेवा शर्तों के संबंध में की गई घोषणा को शिक्षक नेताओं ने धोखा करार दिया है। खगड़िया शिक्षक संघ की ओर से गुरुवार को समाहरणालय के समक्ष राज्य संघ के आह्वान पर दर्जनों शिक्षक नेताओं ने एकत्रित होकर नई सेवा शर्त की प्रतियां जलाकर सरकार के विरुद्ध आक्रोश व्यक्त किया। संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष सह जिलाध्यक्ष मनीष कुमार सिंह ने कहा कि सरकार शिक्षकों के साथ सौतेला व्यवहार कर अपमानित करने का काम कर रही है। श्री सिंह ने कहा कि सरकार न सिर्फ बिहार के 4 लाख शिक्षकों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है बल्कि शिक्षा व्यवस्था चौपट करने पर तुली है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा स्वीकृत सेवा शर्त पूर्णतया शिक्षकों के साथ अन्याय है जिसका शिक्षक संघ पुरजोर विरोध करता है। उन्होंने कहा कि हड़ताल समाप्ति के दौरान सरकार ने सामान्य स्थिति होने पर संघ से वार्ता कर मांगों के संदर्भ में न्यायोचित कदम उठाने का वादा किया था जो कथनी तक ही सीमित रह गया। इस मौके पर संघ के जिला सचिव अशोक यादव, उपाध्यक्ष पंकज राय, कोषाध्यक्ष मनीष प्रियदर्शी, नीलेश चौधरी, आलोक रंजन, आदित्य कुशवाहा, जवाहर कुमार, मुकेश आचार्य, सुबोध कुमार, दिलीप चौधरी, अवनीश कुमार, अंजय अंजना, पंकज ठाकुर, नारायण कुमार, सुरेंद्र कुमार सुमन आदि दर्जनों शिक्षक उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/अजिताभ/हिमांशु शेखर/विभाकर-hindusthansamachar.in