कृषि विज्ञान केंद्र में किया गया पोषण माह का शुभारंभ
कृषि विज्ञान केंद्र में किया गया पोषण माह का शुभारंभ
बिहार

कृषि विज्ञान केंद्र में किया गया पोषण माह का शुभारंभ

news

बेगूसराय, 17 सितम्बर (हि.स.)। कुपोषण मुक्त भारत निर्माण के लिए गुरुवार को कृषि विज्ञान केंद्र बेगूसराय में पोषण माह की शुरुआत की गई। इस अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एवं बिहार सरकार के कृषि मंत्री बिहार सरकार डॉ. प्रेम कुमार ने कृषि विज्ञान केंद्र में उपस्थित आंगनबाड़ी सेविकाओं और किसानों को संबोधित किया। मौके पर आंगनवाड़ी सेविका के बीच सब्जी का बीज एवं फलदार वृक्ष के पौधों का वितरण किया गया। इस अवसर पर इफको के प्रतिनिधि राज नारायण ने प्रशिक्षण में भाग ले रही आंगनबाड़ी सेविकाओं को संबोधित करते हुए कहा कि सभी को गांव - गांव में कुपोषण के ऊपर विशेष तौर पर कार्य करना चाहिए। केंद्र की वरीय वैज्ञानिक एवं प्रधान डॉ. सुनीता कुशवाहा ने कहा कि घर की महिलाओं को खाने के साथ-साथ खाने के पोषण पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए ताकि खाने की गुणवत्ता बरकरार रहे। प्रशिक्षण दे रहे डॉ. नीरज ने वर्ष भर पोषण वाटिका में लगने वाली सब्जियों के बारे में विस्तार से बताया। पिरामल फाउंडेशन के शशिकांत ने आंगनबाड़ी सेविका एवं महिला कृषकों से पोषण वाटिका को अपनाने की सलाह दी, ताकि बच्चों और महिलाओं में कुपोषण की समस्या को दूर किया जा सके। इस अवसर पर केंद्र के वैज्ञानिक इंजीनियर विवेक कुमार, मुकेश कुमार, अंशुमन द्विवेदी समेत बड़ी संख्या में महिला कृषक उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/विभाकर-hindusthansamachar.in