कुशल प्रशासक और लोकप्रित नेता थे कामत,  असामयिक निधन से निजी तौर पर दुखी हूं ः नीतीश
कुशल प्रशासक और लोकप्रित नेता थे कामत, असामयिक निधन से निजी तौर पर दुखी हूं ः नीतीश
बिहार

कुशल प्रशासक और लोकप्रित नेता थे कामत, असामयिक निधन से निजी तौर पर दुखी हूं ः नीतीश

news

मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री ने जताया शोक राजकीय सम्मान से होगा मंत्री कपिलदेव कामत का अंतिम संस्कार पटना, 16 अक्टूबर (हि.स.)। पंचायती राज मंत्री के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कामत का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। वह कुशल प्रशासक और लोकप्रिय नेता थे। मैं उनके असामयिक निधन से निजी तौर पर दुखी हूं। उनके निधन से राजनीतिक क्षेत्र को अपूरणीय क्षति पहुंची है। सीएम के अलावा दीघा विधायक डॉ. संजीव चौरसिया ने उनके निधन शोक संवदेना व्यक्त की। उल्लेखनीय है कि बिहार के पंचायती राज मंत्री कपिल देव कामत (70) का गुरुवार देर रात पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में निधन हो गया। कामत के परिवार में दो बेटे और चार बेटियां हैं। उनकी पत्नी का निधन कुछ महीने पहले हो गया था। बाबूबरही विधानसभा क्षेत्र से जदयू विधायक कामत को कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद एक अक्टूबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गरीबों के प्रति संवेदना से भरे थे कामतः सुशील मोदी उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित अन्य नेताओं ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया। मोदी ने उनके निधन को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि कामत गरीबों के प्रति संवेदना से भरे हुए थे। कामत के स्वस्थ नहीं रहने के बाद जदयू ने बाबूबरही विधानसभा से उनकी बहू मीना को मैदान में उतारा है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/विभाकर-hindusthansamachar.in