किसानों के समृद्धि का आधार है खेती और पशुपालन : विजय शंकर
किसानों के समृद्धि का आधार है खेती और पशुपालन : विजय शंकर
बिहार

किसानों के समृद्धि का आधार है खेती और पशुपालन : विजय शंकर

news

बेगूसराय, 12 सितम्बर (हि.स.)। कृषि और पशुपालन किसानों की समृद्धि का मुख्य आधार है। बरौनी डेयरी दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ किसानों की समस्या के निदान के लिए हमेशा तत्पर रहती है। यह बातें बरौनी डेयरी के अध्यक्ष विजय शंकर सिंह ने शनिवार को बहरामपुर पंचायत के सलेमपुर गांव में बोनस वितरण समारोह को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर वित्तीय वर्ष 2015 से 19 के तहत 350 किसानों के बीच पांच लाख 44 हजार 230 रुपए का बोनस तथा किसानों के बीच पशुपालन में उपयोगी विभिन्न सामग्री का वितरण किया गया। पशुपालकों को संबोधित करते हुए अध्यक्ष ने कहा कि डेयरी द्वारा किसानों को बीमा का लाभ दिया जा रहा है। समय पर दूध के भुगतान के लिये बरौनी डेयरी हमेशा तत्पर रहती है। अच्छी नस्ल की गायों को पालने के लिए किसानों को प्रेरित किया। अब पारंपरिक पशुपालन छोड़ वैज्ञानिक तरीके से पशुपालन की आवश्यकता है। निदेशक मंडल सदस्य दीपक कुमार सिंह ने कहा कि दूध का उत्पादन तभी बढ़ेगा जब पशुओं की समुचित देखरेख होगी। पशुओं की साफ-सफाई पर विशेष जोर देने के साथ ही समय-समय पर टीकाकरण कराने और पशुओं के भोजन प्रबंधन पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। निदेशक मंडल सदस्य रंजीत कुमार सिंह ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में भी डेयरी ने किसानों के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने का काम किया और किसानों को कोई नुकसान नहीं होने दिया। बरौनी डेयरी से जुड़े किसान विपरीत परिस्थितियों में भी आगे बढ़ रहे हैं। फरछीवन दुग्ध उत्पादन सहयोग समिति के अध्यक्ष सह मुखिया सुधीर कुमार राय मुन्ना ने कहा कि केन्द्र की सरकार किसानों के प्रति काफी गंभीर है और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा लगातार किसानों के लिए कुछ नया किया जा रहा है, जिससे किसानों को आगे बढ़ने का अवसर मिला है। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा-hindusthansamachar.in