करोड़ों का अवैध अभ्रक उत्खनन रोकने को ले छापेमारी
करोड़ों का अवैध अभ्रक उत्खनन रोकने को ले छापेमारी
बिहार

करोड़ों का अवैध अभ्रक उत्खनन रोकने को ले छापेमारी

news

नवादा 16 सितम्बर (हि स)। नवादा जिले के रजौली जंगली इलाके के धमनी पंचायत के बुढ़ियासांख गांव से ऊपर कोरैया अभ्रक माइंस पर वन विभाग की टीम ने करोड़ो का अवैध अभ्रक उत्खनन को रोकने के लिए बुधवार को छापेमारी की। एसटीएफ जवानों के सहयोग से की गई इस छापेमारी के दौरान वन विभाग ने अभ्रक के अवैध उत्खनन में लगे एक जेसीबी मशीन और एक ट्रैक्टर को जब्त कर लिया। हालांकि छापेमारी टीम को देखते ही अभ्रक माफिया घने जंगल में भागने में सफल रहे। एसटीएफ जवानों ने कुछ दूर तक अभ्रक माफियाओं का पीछा भी किया। लेकिन घने जंगल होने की वजह से वे भागने में सफल रहे। जिसके बाद वन विभाग के द्वारा मौके पर अभ्रक का खनन कर रहे जेसीबी और एक ट्रैक्टर को जब्त कर लिया गया। वनपाल वीरेंद्र कुमार पाठक ने बताया कि जानकारी मिली कि कोरैया अभ्रक माइंस पर अभ्रक माफियाओं द्वारा जेसीबी मशीन लगाकर अवैध खनन किया जा रहा है। सूचना के आलोक में एसटीएफ जवानों के साथ मिलकर छापेमारी की गई। फॉरेस्टर ने बताया कि अभ्रक माइंस पर जेसीबी लगाकर खनन करने वालों में राहुल मियां, इसराइल मियां, सरफराज आलम, सोनू खान और सुरेश यादव शामिल हैं। गौरतलब है कि बीते कुछ महीने पहले बाराटांड़ गांव में वन विभाग की टीम ने अभ्रक खदानों में छापेमारी की थी। तब अभ्रक माफियाओं ने महिलाओं को आगे कर जब्त जेसीबी को जबरन छुड़ा लिया था। हिंदुस्थान समाचार/डॉ सुमन/चंदा-hindusthansamachar.in