कमलेश शर्मा पर डोरे डाल रही है कांग्रेस
कमलेश शर्मा पर डोरे डाल रही है कांग्रेस
बिहार

कमलेश शर्मा पर डोरे डाल रही है कांग्रेस

news

गया, 07 सितंबर (हि.स.)।युवा जदयू के जिलाध्यक्ष पद से बर्खास्त कमलेश शर्मा पर कांग्रेस पार्टी के नेता डोरे डाल रहे हैं। पार्टी पद से बर्खास्त किए गए कमलेश शर्मा का आरोप है कि जदयू में रुपया पर पार्टी पद मिलता है। शर्मा का दावा है कि उन्हें युवा जदयू जिलाध्यक्ष बनाने के लिए 12 लाख रुपया प्रदेश युवा जदयू अध्यक्ष अभय कुशवाहा ने पिछले साल लिया था। कमलेश शर्मा को राजद नेता तेजप्रताप से मुलाकात करने के कारण पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है। पार्टी ने कमलेश शर्मा को युवा जदयू के जिलाध्यक्ष पद से मुक्त कर दिया है। कमलेश शर्मा के आवास पर आयोजित प्रेस वार्ता में कांग्रेस पार्टी के नेताओं की उपस्थिति इस बात की ओर इशारा कर रही है कि यदि सबकुछ ठीक ठाक रहा था ,अगला राजनीतिक पता कांग्रेस हो सकता है। वैसे कमलेश शर्मा ने इस बात से इंकार करते हुए कहा कि उनके समर्थक और शुभचिंतक हर दल और वर्ग में हैं। शर्मा ने कांग्रेस या अन्य पार्टी में शामिल होने को लेकर हो रही चर्चा को यह कहकर विराम देने की कोशिश की कि राजनीति संभावनाओं का खेल है। आगे- आगे देखिए होता है क्या? कमलेश शर्मा ने कहा कि 15 सालों से जदयू में समर्पित कार्यकर्ता के रूप में कार्य करते रहे। इस दौरान उन्हें युवा जदयू का जिलाध्यक्ष भी बनाया गया। उन्होंने कहा कि एक मॉल में खरीदारी करने के दौरान तेज प्रताप से मुलाकात हुई थी लेकिन एक नेता के दूसरे नेता से मिलने पर जो औपचारिकता होती है, सिर्फ वही बात हुई थी। उन्होंने कहा कि युवा जदयू के प्रदेश अध्यक्ष सह टिकारी विधायक अभय कुशवाहा ने उन्हें मेन विंग का जिलाध्यक्ष बनाने के नाम पर 1 साल पूर्व 12 लाख रुपए लिए थे लेकिन कई माह बीत जाने के बाद भी उन्हें पैसा वापस नहीं किया। विगत 4 दिन पूर्व उन्होंने अभय कुशवाहा के आवास पर जाकर पैसे वापस करने की मांग की थी। पैसा मांगने के कारण मनगढ़ंत आरोप लगाकर उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। हिंदुस्थान समाचार/ पंकज कुमार/विभाकर-hindusthansamachar.in