कटिहार में अबतक 3,991 अवैध शराब कारोबारी भेजे  जा चुके हैं जेल
कटिहार में अबतक 3,991 अवैध शराब कारोबारी भेजे जा चुके हैं जेल
बिहार

कटिहार में अबतक 3,991 अवैध शराब कारोबारी भेजे जा चुके हैं जेल

news

कटिहार, 18 अक्टूबर (हि.स.)। बिहार में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा हुए चार साल से भी ज्यादा समय गुजर गया है। इसके बावजूद अभी तक शराब माफियाओं पर पूरी तरह अंकुश लगाने में सरकार नाकाम रही है। जिला उत्पाद विभाग ने शराबबंदी के बाद 01 अप्रैल 2016 से 05 अक्टूबर 2020 तक पूरे कटिहार जिले में शराब माफियाओं के 23,144 ठिकानों पर छापेमारी कर 4,710 लोगों पर मामला दर्ज किया। जिला उत्पाद विभाग से मिले आकड़ो पर गौर करें तो अबतक अवैध शराब कारोबार करने के आरोप में 3,991 लोगों को जेल भेजा जा चुका है। विदित हो कि 2015 के विधानसभा चुनाव में प्रचार के दौरान महिलाओं से पूर्ण शराबबंदी का वादा करने के बाद, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पांच अप्रैल 2016 को राज्य में पूर्ण शराबबंदी लागू करने का आदेश दिया था, जिसके बाद प्रदेश की सभी शराब की दुकानों पर ताले लग गए थे। दोनों सदनों के सदस्यों ने भी शराब का उपयोग नहीं करने और दूसरों को इसका उपयोग करने से रोकने का संकल्प लिया था। सूबे में पूर्ण शराबबंदी के बावजूद शराबियों को अब भी महंगी ही सही लेकिन शराब चोरी—छिपे मिल रही है। अक्सर चुनाव के मौसम में अवैध शराब कारोबारियों का धंधा 'दिन दोगुना और रात चौगुना' बढ़ जाता है। शराब का प्रलोभन देकर मतदाताओं को अपने पाले में करने की कोशिश करना कुछ उम्मीदवारों के लिए नई बात नहीं है। कटिहार जिले में सुरक्षित, पारदर्शी और सफल मतदान कराने को लेकर जिला प्रशासन की गतिविधियां तेज हो गई हैं। जिले की सीमा से सटे नवगछिया (भागलपुर), पूर्णिया, और पश्चिम बंगाल के मालदह और दिनाजपुर सीमा पर प्रशासन द्वारा वाहनों की सख्ती से जांच—पड़ताल की जा रही है। इस दौरान बेनामी नगदी के अलावा भारी मात्रा में शराब भी जब्त की जा रही है। बिहार में पूर्ण शराबबंदी कानून लागू होने के बावजूद अवैध शराब कारोबारियों पर पूरी तरह अंकुश लगाना प्रशासन के लिए चुनौती बना हुआ है। सिर्फ बीते छह महीने की बात करें तो 01 अप्रैल से 05 अक्टूबर तक जिले में उत्पाद विभाग ने 2088.79 लीटर विदेशी शराब, 1124.50 लीटर चुलाई शराब व 17070 किलोग्राम जावा महुआ, 66 किलोग्राम गांजा के अलावा 207 लीटर ताड़ी, 155ल लीटर बियर और 46.20 लीटर देसी शराब जब्त कर चुकी है। जैसे—जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आएगी यह आंकड़ा बढ़ता जाएगा। शराबबंदी के बाद से 05 अक्टूबर तक उत्पाद विभाग 9122.681 लीटर विदेशी शराब, 49237 किलोग्राम जावा महुआ, 7562.25 लीटर चुलाई शराब, 2511 लीटर ताड़ी, 708.45 लीटर बियर तथा 118.75 किलोग्राम गांजा जब्त कर चुका है। हिन्दुस्थान समाचार/विनोद/हिमांशु शेखर/विभाकर-hindusthansamachar.in