आंदोलन कर रही है आंगनबाड़ी कर्मियों ने किया चुनाव लड़ने का छूट देने की मांग
आंदोलन कर रही है आंगनबाड़ी कर्मियों ने किया चुनाव लड़ने का छूट देने की मांग
बिहार

आंदोलन कर रही है आंगनबाड़ी कर्मियों ने किया चुनाव लड़ने का छूट देने की मांग

news

बेगूसराय, 12 सितम्बर (हि.स.)। छह सूत्री विभिन्न मांगों को लेकर शनिवार को आंगनवाड़ी सेविका सहायिका संघ बखरी इकाई द्वारा बखरी आईसीडीएस कार्यालय के मुख्य गेट पर धरना-प्रदर्शन किया। धरना सभा को संबोधित करते हुए यूथ फेडरेशन के अंचल सचिव जितेंद्र जितू ने कहा कि सेविका सहायिका को एक तो कम मजदूरी दिया जा रहा है। महीने में चार से पांच बार प्रखंड कार्यालय बुलाया जाता है, जिसमें प्रति कर्मी 50 से एक सौ रुपया आने-जाने के किराया में खर्च हो जाता है। उपर से सरकार के साथ-साथ स्थानीय पदाधिकारी इनका आर्थिक दोहन करते हैं। संघ की अध्यक्षा रेणु पाठक ने कहा कि सरकार हमें सरकारी कर्मी का दर्जा दे। जबतक दर्जा नहीं देती है तब तक सेविका को 20 हजार तथा सहायिका को 15 हजार प्रतिमाह मानदेय दे। सचिव जीवछ कुमारी एवं कोषाध्यक्ष लक्ष्मी कुमारी ने कहा कि बिहार सरकार ने 2017 में 50 प्रतिशत मानदेय वृद्धि का वादा किया, उसे लागू करे तथा सेविका को सुपरवाइजर एवं सहायिका को सेविका के पद पर प्रोन्नति दी जाय। सरकारी कर्मी का दर्जा मिलने तक चुनाव लड़ने की छूट दे। हमलोग 30 अगस्त से छह सितम्बर तक हड़ताल पर थे, उसके बाद सात सितम्बर से पूर्ण हड़ताल पर हैं। सरकार जबतक हमारी मांग पूरी नहीं करती है, लड़ाई जारी रहेगी। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र/चंदा-hindusthansamachar.in